पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अवैध शराब की तस्करी:शराब से लोड टैंकर मामले में सेटिंग के आरोप से घिरे ईएसआई जागर सिंह ने ली वीआरएस

हिसार3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभागीय जांच बंद नहीं हुई, 3 माह का वेतन जमा कराया, चंद माह बाद होने थे सेवानिवृत्त

तेल टैंकर में अवैध शराब की तस्करी के मामले में सप्लायर से सेटिंग करने के आरोप से घिरे ईएसआई जागर सिंह और हेड कांस्टेबल चिरंजी लाल के खिलाफ विभागीय जांच जारी है। इन दोनों को उक्त मामला उजागर होने के बाद लाइन हाजिर कर दिया था। अब ईएसआई जागर सिंह ने अपना तीन माह का वेतन सरकार के खजाने में एडवांस जमा करवाकर पुलिस विभाग से वीआरएस यानी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली।

कुछ माह के बाद ही इनकी विभाग में सेवाएं पूरी होने पर सेवानिवृत्ति तय थी लेकिन इससे पहले स्वयं ईएसआई ने उक्त कदम उठा लिया। हालांकि अभी ईएसआई व एचसी को राहत नहीं मिली है। विभागीय जांच चल रही है। आगामी कार्रवाई तक ईएसआई के सेवानिवृत्ति के फंड भी रुक सकते हैं।

अगर जांच में दोषी मिलते हैं तो एफआईआर भी संभव है। इस मामले में एसपी ने बरवाला डीएसपी को जांच करके रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए थे। इसके आधार पर कार्रवाई होनी है। गौरतलब है कि तेल टैंकर में अवैध शराब की पेटियों को लोड किया था।

इसे चंडीगढ़ से राजस्थान के जोधपुर में सप्लाई करना था। टैंकर लेकर चालक शंभू व कंडक्टर दशरथ सरसौद के पास पहुंचे थे, तब ईएसआई जागर सिंह ने उन्हें रोक लिया था। इसके बाद सेटिंग का खेल शुरू हुआ था। एचसी चिरंजी लाल की मिलगेट थाना में ड्यूटी थी जोकि अपना एरिया छोड़कर सरसौद पहुंच गया था।

इसके बाद धौंस जमाकर 5 लाख रुपये व सोने की चेन मांगी थी। यह बात सामने आई थी कि इन दोनों को तीन लाख रुपयों की पेशकश की थी लेकिन दोनों ने इनकार कर दिया था। फिर मामले संबंधित मुखबिरी होने पर बरवाला थाना पुलिस और स्पेशल टीमों ने रेड मारकर टैंकर को जब्त कर लिया था। चालक फरार हो गया था लेकिन कंडक्टर दशरथ पकड़ा गया था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें