सफाई के प्रति हम सजग:2.85 लाख सिटीजंस के फीडबैक ने हिसार को बनाया नं. वन

हिसार7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ढंढूर डंपिंग स्टेशन पर लगी आग। - Dainik Bhaskar
ढंढूर डंपिंग स्टेशन पर लगी आग।
  • स्वच्छता सर्वेक्षण के सिटीजन फीडबैक में हिसार नगर निगम प्रदेश में रहा अव्वल

स्वच्छता सर्वेक्षण के फीडबैक में हिसार नगर निगम प्रदेश में पहले स्थान पर है। देशभर में हिसार निगम 3 से 5 लाख तक की यूएलबी की जनसंख्या वाली कैटेगरी में दूसरे स्थान पर है। प्रदेश की 88 यूएलबी में से हिसार के सबसे ज्यादा 2.85 लाख लाेगाें ने फीडबैक देकर निगम को नंबर वन स्थान दिलाया है।

दूसरे स्थान पर पंचकूला रहा है। पंचकूला निगम के 2.64 लाख सिटीजन ने फीडबैक दिया है। गुरुग्राम के 1.80 लाख लाेगाें ने फीडबैक दिया है। सफीदाें के 43 ने व पुन्हाना के 574 लाेगाें ने सिटीजन फीडबैक दिया है।

3 से 5 लाख आबादी के निगमों में फर्स्ट टू

  • ईस्ट दिल्ली म्युनिसिपल काॅर्पाेरेशन 3.34 लाख
  • हिसार - 2.85 लाख

मैनुअल फीडबैक भी लिया था

स्वच्छता सर्वे टीम ने करीब 2 हजार से ज्यादा लाेगाें का मैनुअल फीडबैक लिया। हर वार्ड से करीब 200 लाेगाें काे सिटीजन फीडबैक लिया था। इस दाैरान उन्हाेंने आम लाेगाें से करीब 8 सवाल पूछे थे।

इन माध्यमाें से दिए थे फीडबैक

  • स्वच्छता सर्वे 2021 की वेबसाइट पर
  • 1969 पर काॅल करके
  • स्वच्छ फाेर सिटी एप से

दाे सदस्यीय टीम ने वार्ड वाइज सफाई काे लेकर किया था निरीक्षण

बता दें कि हिसार व नगर निगम एरिया में स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 हाे चुका है। हाल ही में दाे सदस्यीय टीम ने यहां वार्ड वाइज सफाई काे लेकर निरीक्षण किया था। करीब एक सप्ताह तक सर्वेक्षण का काम किया गया। पब्लिक टाॅयलेट, कम्युनिटी टाॅयलेट यूरिनल, एसटीपी सहित सभी चीजें बारीकी से चेक की गई।

पार्क, बरसाती नाले, रेजिडेंशियल व काॅमर्शियल एरिया में साफ सफाई, कंपाेस्टिंग प्लांट सहित कई चीजें चेक की। वाटर बाॅडी, सीएनडीवेस्ट प्लांट, ब्लू बर्ड झील, ढंढूर डंपिंग स्टेशन का सर्वे किया गया था। इसके अलावा वाॅल पेंटिंग व राेड साइडिड प्लांटेशन का निरीक्षण किया गया।

इधर, ढंढूर डंपिंग स्टेशन पर तीन दिन से नहीं बुझ रही आग

ढंढूर डंपिंग स्टेशन पर पिछले तीन दिन से आग लगी हुई है। दमकल टीम लगातार आग पर काबू पाने में जुटी है मगर हवा के तेज रूख से बार-बार आग सुलग रही है। फायर ब्रिगेड की टीम ने गुरुवार काे 15 गाड़ियां आग बुझाने के लिए भेजी।

करीब 1 लाख 35 हजार लीटर पानी का छिड़काव करने के बाद आग सुलगती रही। डंपिंग स्टेशन पर आग लगने से धुआं दिल्ली फाजिल्का हाई-वे पर आ गया जिससे वाहन चालकाें काे खूब परेशानी का सामना करना पड़ा। यहां से निकलने वाला यातायात प्रभावित रहा और पूरे दिन हादसे का भय बना रहा।ढंढूर डंपिंग स्टेशन पर आग की सूचना के बाद फायर ऑफिसर दलबीर सिंह नैन माैके पर पहुंचे।

उन्हाेंने नगर निगम के सबमर्सिबल पंप से हाेज पाइप चालू करवा दी। नगर निगम की दस सदस्यीय टीम ने बाद में माेर्चा संभाल लिया। हैरानी की बात है कि नगर निगम ने डंपिंग स्टेशन पर पड़े कचरे काे सेग्रीगेट करने के लिए राेहतक की एजेंसी काे 6.37 कराेड़ रुपये का टेंडर दिया है। इस एजेंसी काे गुरुवार काे ही वर्क ऑर्डर जारी हुए थे मगर इससे पहले ही डंपिंग स्टेशन पर आग लग गई। काफी मात्रा में कूड़ा जलकर राख हाे गया।

खबरें और भी हैं...