पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Fetal Sex Test Was Going On In The House Located On Agroha Marg, Team Busted By Sending Fake Customer, Dr. Anantram Has Already Left

स्वास्थ्य विभाग छापामार कार्रवाई:अग्रोहा मार्ग स्थित घर में चल रही थी भ्रूण लिंग जांच, टीम ने फर्जी ग्राहक भेज किया भंडाफोड़, डाॅ. अनंतराम पहले ही निकल गए

बरवाला18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मौके पर मौजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कार्रवाई करते हुए।  - Dainik Bhaskar
मौके पर मौजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कार्रवाई करते हुए। 

शहर के अग्रोहा मार्ग पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापामार कार्रवाई करते भ्रूण लिंग जांच के मामले का खुलासा किया है। टीम ने पुलिस के साथ मौके से जांच में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण भी बरामद किए हैं। भ्रूण लिंग जांच में चिकित्सक अनंत राम की संलिप्तता सामने आई है। टीम के पहुंचने से पहले ही अनंत राम मौके से निकल गया।

टीम को मौके से 40 हजार रुपयों की नकदी भी मिली है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम में हिसार से डॉ. प्रभु दयाल, डॉ. कामिद मोंगा, डॉ. तरुण भूटानी, फतेहाबाद के सीएमओ हनुमान सिंह, डॉ. गिरीश शर्मा, डॉ. कमल आदि शामिल थे। टीम को मौके से जो सामान मिला है उसमें मुख्य रूप से लैपटाप, यूएसजी प्रोब, बिस्तर, हार्डवेयर का सामान आदि शामिल हैं।

मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने वार्ड 14 स्थित एक मकान में भ्रूण लिंग जांच करवाने को लेकर जैन समाधि अस्पताल टोहाना में नर्सिंग स्टाफ का कार्य करने वाले जिला संगरूर निवासी जगराज पुत्र तेजा सिंह के पास एक महिला को फर्जी ग्राहक बनाकर भेजा। जिसका स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार पीछा कर रही थी। महिला के साथ एक अन्य महिला भी उसके साथ मौजूद रही।

जिन महिलाओं की अनंतराम ने भ्रूण लिंग जांच की वह मौके पर ही मौजूद थी। उन्हें टीम ने मौके पर ही काबू कर लिया। पूछताछ में मकान मालकिन सुनीता के बेटे ने बताया डॉ. अनंत राम व उसके साथ एक अन्य यहां अक्सर आते रहते हैं।

बेड में छुपा रखे थे भ्रूण लिंग जांच के उपकरण

पुलिस ने जब सुनीता लुहारी के घर की तलाशी ली तो उसके एक कमरे में रखे बेड से भ्रूण लिंग जांच में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण बरामद हुए। वहीं 40 हजार रुपयों की नकदी टीम ने जगराज से बरामद की। पुलिस ने मौके पर मौजूद जिला भिवानी के गांव गोपालवास निवासी महिला मनीशा को भी भ्रूण लिंग जांच करवाने के आरोप में काबू किया है।

भ्रूण लिंग जांच मामले में डॉ. अनंत राम पर पहले भी दर्ज हो चुके हैं कई मामले
जनता अस्पताल के संचालक डॉ. अनंत राम बरवाला पर इससे पहले भी भ्रूण लिंग जांच का केस दर्ज हो चुका है। उनके अस्पताल में लगी अल्ट्रासाउंड मशीन तक को हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम सील कर चुकी है। वर्ष 2018 में पंजाब व हरियाणा के हेल्थ डिपार्टमेंट विभाग की टीम की शिकायत पर पुलिस ने पीएनडीटी व अन्य धाराओं के तहत हिसार की डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. जया गोयल के बयान पर डॉ. अनंत राम व उसके अन्य सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

उस दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम को एक पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन, लैपटाप, एक पीआरओ प्रेम लिखा विजिटिंग कार्ड व ऑक्सीटॉसिन के इंजेक्शन भी मिले थे जिन्हें टीम ने अपने कब्जे में लिया था। डॉ. अनंत राम इससे पहले भी भ्रूण लिंग जांच करने के आरोप में फंस चुके हैं।

खबरें और भी हैं...