शिक्षा और खेल / सरकारी स्कूलों के कार्यालय खुलेंगे इधर, खिलाड़ियों के लिए खुले स्टेडियम के द्वार

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

हिसार. विद्यालय शिक्षा निदेशालय हरियाणा ने प्रदेश के सरकारी स्कूलों के कार्यालय खोलने के आदेश जारी किए हैं। जिसकी स्टेटस रिपोर्ट शुक्रवार को डीईओ, डिप्टी, डीईओ, जिला परियोजना समन्वयक ने अतिरिक्त मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पेश किए। कार्यालय विद्यालय के समय अनुसार ही खुला रहेगा, दाखिला संबंधी कार्यों के लिए यदि अभिभावक स्कूल में आते हैं तो सामाजिक दूरी तथा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग हरियाणा द्वारा जारी दिशा निर्देश की पालना अनिवार्य है। सरकारी स्कूलों में दाखिला केवल आधार कार्ड लेकर भी करने के निर्देश दिए। मुख्य फोकस स्कूल में दाखिले की संख्या को शत प्रतिशत करने व ड्रॉपआउट रेट शून्य करने पर है।
गर्भवती महिलाओं व बीमार कर्मचारियों को छूट स्कूल के मुखिया सहयोग के लिए अनिवार्य प्रशासनिक कार्य जैसे दाखिला, ठहराव आदि से जुड़े कार्य, मिड डे मील के वितरण, पाठ्य पुस्तक वितरण, पुस्तकालय में पुस्तक वितरण के लिए किसी प्रभारी अध्यापक को बुलाना चाहते हैं तो बुला सकते हैं। दिव्यांगजनों, गर्भवती महिलाओं, क्रोनिक रोग से ग्रसित स्टाफ सदस्यों को इससे छूट दी जा सकती है। फर्नीचर व कक्षाओं को सैनेटाइज करवाने के आदेश। शिक्षकों के लिए साबुन, सैनेटाइजर व मास्क उपलब्ध करवाने के लिए ढाई हजार से 4 हजार तक का बजट दिया है।

हेल्थ चेकअप के बाद मिलेगा प्रैक्टिस पास अंडर 18 के लिए पेरेंट्स से मंजूरी पत्र जरूरी
कोविड-19 के चलते पिछले दो माह से बंद चल रहे खेल स्टेडियमों के मैदानों में खिलाड़ियों को वापस आने की इजाजत मिल गई है। खेल एवं युवा कल्याण विभाग मुख्यालय से स्टेडियमों में खिलाड़ियों के अभ्यास को लेकर गाइडलाइन भेजी गई है। जिला खेल अधिकारी कृष्ण कुमार ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान पूरी एहतियात बरते जाएंगे। प्रैक्टिस के लिए सुबह व शाम को 5.30 से 7.30  तक का समय निर्धारित किया गया है।

खेल अभ्यास के लिए गाइडलाइन जारी
18 खिलाड़ियों व 2 प्रशिक्षकों को एक ग्रुप में एक घंटे के लिए स्टेडियम में खिलाया जाए और दूसरे ग्रुप को पहले ग्रुप के बाहर आने के बाद प्रवेश कराया जाए। एकल खेल में 10 से अधिक खिलाड़ी नहीं।
मैदान में मास्क पहनना अनिवार्य है। खिलाड़ियों की हेल्थ स्क्रीनिंग की जाएगी और आरोग्य एप डाउनलोड करना होगा। स्टेडियम में केवल खिलाड़ियों को ही प्रवेश की अनुमति दी गई है। 
स्टेडियम व हॉल की एंट्री पर सेनेटाइजर उपलब्ध रहेगा। डेढ़ से दो मीटर की दूरी रखनी होगी। खिलाड़ी अपने पर्सनल खेल इक्यूपमेंट दूसरे खिलाड़ी को नहीं देंगे।
18 वर्ष से कम आयु के खिलाड़ी के अभिभावकों से लिए जाएगा मंजूरी पत्र। 10 वर्ष से कम को मंजूरी नहीं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना