पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पर्यावरण बचाने की पहल:श्रीनगर से साइकिल पर कन्याकुमारी के लिए निकले हर्षिल, बढ़ते प्रदूषण के प्रति जागरूकता लगाने के लिए 45 दिन में 4111 किमी चलने का टारगेट

हिसार16 दिन पहलेलेखक: मनाेज हिसारी
  • कॉपी लिंक
हिसार के सेक्टर-14 पार्ट टू निवासी हर्षिल जैन श्रीनगर से कन्याकुमारी तक की साइकिल यात्रा पर निकले हैं। - Dainik Bhaskar
हिसार के सेक्टर-14 पार्ट टू निवासी हर्षिल जैन श्रीनगर से कन्याकुमारी तक की साइकिल यात्रा पर निकले हैं।

पर्यावरण काे प्रदूषित हाेने से बचाने और युवाओं काे फिट रहने का संदेश देने के लिए रेलवे में प्रथम श्रेणी के अधिकारी हिसार के सेक्टर-14 पार्ट टू निवासी हर्षिल जैन श्रीनगर से कन्याकुमारी तक की साइकिल यात्रा पर निकले हैं। उन्होंने 4111 किलोमीटर की यात्रा 45 दिन में पूरी करने का लक्ष्य रखा है। श्रीनगर से साइकिल पर निकले हर्षिल जैन गत दिवस अपने शहर हिसार पहुंचे। रेलवे स्टेशन पर उन्होंने यात्रा का उद्देश्य और अनुभव साझा किए।

रोज 120 किमी का सफर, लोगों को जागरूक कर फिर चल पड़ते हैं

आज पूरी दुनिया खासकर भारत में बढ़ता प्रदूषण एवं बदलती जलवायु गंभीर विषय है। स्वास्थ्य काे लेकर भी लाेग लापरवाह हैं। इसलिए मेरी साइकिल यात्रा का उद्देश्य पर्यावरण काे साफ-सुथरा बनाए रखने का संदेश देना है। जहां भी रुकता हूं, युवाओं के बीच जाकर फिटनेस का संदेश देता हूं। लाेगाें से पेट्रोल -डीजल और सीएनजी का प्रयोग जहां तक हो सके, उतना कम करने की अपील करता हूं। 31 अगस्त काे श्रीनगर से निकला था। पहाड़, सुरंग व दुर्गम रास्तों काे पार करते हुए रोज 120-125 किलोमीटर यात्रा करता हूं। लाेगाें से बातचीत कर फिर निकल पड़ता हूं। साइकिल पर अपनी जरूरत के कपड़े, रेनकोट का बैग व टूल किट साथ रखी है। पहले घर वाले व दोस्त डर रहे थे, लेकिन बाद में सहमत हो गए। उनकी यात्रा जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु से होकर कन्याकुमारी में संपन्न हाेगी।- जैसा कपूरथला रेलवे कोच फैक्टरी के अधिकारी हर्षिल जैन ने बताया।

खबरें और भी हैं...