पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेलवे कर्मियों के लिए गुड न्यूज:सभी रेलवे कर्मियाें के बनेंगे उम्मीद कार्ड किसी भी अस्पताल में करा सकेंगे इलाज

हिसार3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज

रेलवे कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्यों के लिए खुशखबरी है। अब उन्हें इलाज के लिए विभिन्न अस्पतालों की दौड़ लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। विभागीय अधिकारियों द्वारा कर्मचारियों और उनके परिजनों का उम्मीद कार्ड बनाया जा रहा है। इसके माध्यम से कर्मचारियों के परिजन किसी भी अस्पताल में नि:शुल्क उपचार करा सकेंगे।

दरअसल, हिसार, भिवानी, सिरसा के रेलवे कर्मचारियों और उनके परिजनों को जयपुर के रेलवे अस्पताल या फिर अन्य की तरफ दौड़ लगानी पड़ती है। इसके कारण उन्हें आर्थिक परेशानी होती है। कई बार तो गंभीर अवस्था वाले मरीजों की जान पर बन आती है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि अधिकारियों के निर्देश पर रेलवे द्वारा यूनिक मेडिकल आईडेंटिटी कार्ड यानी उम्मीद की सुविधा रेलवे कर्मचारियों को उपलब्ध कराई जा रही है। यह कार्ड रेलवे कर्मी व उनके परिवारजनों का बनाया जा रहा है। इसमें यूनिक नंबर होगा। आधार कार्ड की तरह इसमें रेलवे कर्मचारी, उसके पूरे परिवार का ब्योरा होगा। इस कार्ड के माध्यम से रेल कर्मचारी किसी भी प्राइवेट अस्पताल में जाकर भी इलाज करा सकेंगे। हिसार भिवानी व अन्य रेलवे स्टेशन के कर्मचारियों के कार्ड युद्ध स्तर पर बन रहे हैं। कुछ कर्मचारियों को कार्ड बनाने की ट्रेनिंग भी दी जा रही है।

जानिए... क्या है उम्मीद कार्ड की खासियत
इस योजना के अंतर्गत हर रोगी को एक आईडी कार्ड दिया जाएगा। जिस पर उसका सारा मेडिकल डाटा डिजिटल स्टोर होगा। जैसे कि उसकी प्रशिक्षण, रिपोर्ट, डिस्चार्ज से संबंधित जानकारी आदि। जिसकी वजह से अब पेशेंट को अपना इलाज करवाने के लिए भौतिक रिपोर्ट ले जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। पेशेंट का सारा डाटा इस हेल्थ आईडी कार्ड में स्टोर होगा और हेल्थ आईडी कार्ड 2021 के माध्यम से डॉक्टर पेशेंट का सारा डाटा देख पाएंगे। इस योजना के अंतर्गत अस्पताल क्लीनिक तथा डॉक्टर सभी एक केंद्रीय सर्वर से जुड़े होंगे। इसके अंतर्गत हेल्थ कार्ड लेने वाले नागरिकों को एक यूनिक आईडी दी जाएगी जिसके माध्यम से वह सिस्टम में लॉगिन कर सकेंगे।

खबरें और भी हैं...