निगम टीम ने दाे बिल्डिंग सील की:एक बिल्डिंग नक्शे के अनुरूप नहीं बनी तो दूसरी का नहीं था नक्शा पास

हिसार11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गवर्नमेंट काॅलाेनी एरिया में बिल्डिंग सील करते हुए नगर निगम की टीम। - Dainik Bhaskar
गवर्नमेंट काॅलाेनी एरिया में बिल्डिंग सील करते हुए नगर निगम की टीम।

नगर निगम टीम ने शहर में बिना बिल्डिंग बाय लाज के बन रही दाे बिल्डिंग काे सील किया है। अधिकारियाें ने बताया एक बिल्डिंग गवर्नमेंट काॅलाेनी में सील की ताे दूसरी बिल्डिंग का फर्स्ट फ्लाेर सील किया है। बिल्डिंग ब्रांच के अधिकारियाें ने बताया कि मिलगेट पर सील की गई फर्स्ट फ्लाेर की बिल्डिंग का नक्शा ताे पास था मगर नक्शे के अनुरूप निर्माण नहीं हाे रहा था।

पहले मालिक सज्जन सिंह काे नाेटिस दिया था मगर उन्हाेंने इसके बाद नियम के अनुरूप निर्माण ठीक नहीं किया। इसके बाद नाेटिस की कार्रवाई की गई और बिल्डिंग सील कर दी। दूसरा मामला गवर्नमेंट काॅलाेनी का है। एक बिल्डिंग मालिक ने बिना नक्शा के निर्माण कर दिया। निगम ने नाेटिस दिया। इसके बावजूद काम नहीं राेका और न नक्शा पास किया गया। इसके बाद निगम ने बिल्डिंग सील कर दी।

इधर... कई जगह सीलिंग के बाद भी निर्माण जारी

इधर, नगर निगम की बिल्डिंग सीलिंग की कार्रवाई काे शहरवासी ठेंगा दिखा रहे हैं। जाे पट्टी बांधकर निगम अधिकारी बिल्डिंग सील कर रहे हैं उसे बिल्डिंग मालिक केवल सामान्य पट्टी समझकर अपना निर्माण का काम जारी रखते हैं। निगम ने हाल ही में 21 दिसंबर काे शहर की सात बिल्डिंग सील की थी। इन बिल्डिंग्स में से आधी से ज्यादा ताे सीलिंग के बाद निर्माण जारी रखे हैं। सीधे ये भी कहा जा सकता है कि बिल्डिंग मालिकाें काे निगम की कार्रवाई का काेई डर नहीं है। अगर बिल्डिंग सील भी हाे जाती है ताे किसी माध्यम से खुल ही जाती है।

जानिए... क्या कहता है एक्ट

अगर नगर निगम किसी बिल्डिंग काे सील करता है ताे यह कमिश्नर के अादेशाें की अवहेलना है। बिल्डिंग मालिक पर इसमें एफआईआर दर्ज हाे सकती है। इसमें कमिश्नर कंपीटेंट हैं।

खबरें और भी हैं...