• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Late Night, The Farmers Gave A Written Complaint Against The MP To The DSP, The Police's Lax Attitude In Registering The Case, The Dharna Will Continue In The Police Station Premises Even Today.

नारनौंद में सांसद-किसान टकराव:किसानों ने सांसद के खिलाफ DSP को दी शिकायत; केस दर्ज करने में पुलिस का लचर रवैया, थाने में धरना जारी

हिसार21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
DSP जुगल किशोर को राज्यसभा सदस्य के खिलाफ शिकायत सौंपते किसान। - Dainik Bhaskar
DSP जुगल किशोर को राज्यसभा सदस्य के खिलाफ शिकायत सौंपते किसान।

नारनौंद में भाजपा राज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा के घेराव के दौरान टकराव में किसान के घायल होने के मामले में पुलिस को शिकायत दी है। देर रात DSP को सौंपी शिकायत में BJP MP रामचंद्र जांगड़ा की शह पर ज्यादती करने का आरोप लगा किसानों ने केस दर्ज करने की मांग की। लिखित शिकायत के बावजूद भी हांसी पुलिस ने अभी केस दर्ज नहीं किया है।

पुलिस का कहना है कि पहले शिकायत की जांच होगी उसके बाद एफआईआर दर्ज की जाएगी। इस मामले में रविवार को भी नारनौंद थाना परिसर में किसानों का धरना जारी रहा। सोमवार को 10 बजे प्रस्तावित एसपी हांसा के कार्यालय के घेराव के लिए किसान रणनीति बनाने में जुटे रहे। किसानों ने इस मामले में प्रशासन को रविवार तक का समय दिया है। किसानों की मांग है कि सांसद और उसके साथियों के खिलाफ केस दर्ज किया जाए और किसानों के खिलाफ दर्ज केस रद्द हों। अगर प्रशासन ऐसा नहीं करता है तो सोमवार को हांसी में एसपी कार्यालय का घेराव किया जाएगा।

थाना परिसर में चल रहा किसानों का धरना
थाना परिसर में चल रहा किसानों का धरना

खरड़ गांव वाली के किसान नेता कुलदीप की ओर से दी शिकायत में कहा है कि वह और उनके साथी शुक्रवार को सांसद रामचंद्र जांगड़ा का शांतिपूर्ण विरोध कर रहे थे। विरोध में सातरोड का किसान कुलदीप भी शामिल था। उन्होंने आरोप लगाया कि कुलदीप को देख सांसद रामचंद्र जांगड़ा ने गाड़ी में बैठे साथी से कहा कि यह कुलदीप राणा बड़ा आंदोलनकारी बनता है। जगह-जगह विरोध करने पहुंच जाता है, आज इसको निपटा दो। इसके बाद जांगड़ा के साथ बैठे व्यक्ति ने कार से उतरकर कुलदीप के सिर में जोर-जोर से मुक्के मारे, इससे बेसुध होकर वहीं गिर गया। कुलदीप को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। शिकायत में मांग की है कि इस मामले में सांसद रामचंद्र जांगड़ा और उसके साथियों के खिलाफ केस दर्ज किया जाए।

हांसी DSP बोले- पहले जांच होगी फिर दर्ज होगी FIR

हांसी DSP जुगलकिशोर के अनुसार किसानों ने शिकायत दी है, मामले की पहले जांच की जाएगी। इस मामले में पुलिस के पास पूरे एपिसोड के सुबूत हैं, अभी मामले में कोई अपराध बन ही नहीं रहा है। चोटिल ने अभी तक बयान ही नहीं दिए हैं, इस कारण से केस दर्ज नहीं किया गया। मामले के संबंध में एडवोकेट विक्रम मित्तल ने बताया कि प्राथमिक सूचना दर्ज करना पुलिस का काम है। अगर कुछ गलत पाया जाता है तो एफआईआर रद्द की जा सकती है, लेकिन पहले ही यह कह देना कि मामला बनता ही नहीं, इससे पुलिस की मानसिकता साफ उजागर हो रही है। यह भी जरूरी नहीं है कि जो घायल है वही शिकायत दे और उसी के बयान पर केस दर्ज किया जाए।