बुकिंग की होड़ / 30 के बाद नहीं शादियाें के मुहूर्त, बैंक्वेट हाॅल बुकिंग की होड़

Marriage Muhurat, Banquet Hall Booking Competition Not After 30
X
Marriage Muhurat, Banquet Hall Booking Competition Not After 30

  • 31 मई से 9 जून तक शादियां नहीं हाे पाएंगी, संचालकों ने कहा- लाॅकडाउन के कारण जून माह के लिए आईं सबसे ज्यादा बुकिंग

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:29 AM IST

हिसार. शादियाें के लिए 30 मई तक शुभ मुहर्रत हैं। इसके बाद 31 मई से 9 जून शादियां नहीं हाे पाएगी। लाॅक डाउन के चलते बंद बैंक्वेट हॉल की बुकिंग फिर से खाेले जाने के साथ ही शहर में शादी समाराेह पर विचार कर रही फैमिली री बुकिंग के लिए तारीख तय कर रही हैं। पहले दिन ही सभी बैंक्वेट हाल में शादी समाराेह व रिसेप्शन जैसे कार्यक्रम काे लेकर काफी संख्या में लाेग पहुंचे। हालांकि मई माह की बुकिंग फिलहाल कम है। लाेग 9 जून के बाद की तारीख पर बैंक्वेट हाल बुक करा रहे हैं।

शहर में 50 से अधिक मैरिज बैक्वेट हाल है। संचालकाें के अनुसार एक तरफ जहां लाेग दाेबारा लाॅक डाउन हाेने के डर से जल्दी बुंकिग करा रहे हैं वहीं दूसरी तरफ प्रदेश सरकार द्वारा शादी में 50 लाेगाें से ज्यादा लाेगाें काे शामिल करने की मंजूरी न देना लाेगाें काे मैरिज बैक्वेट से दूर ले जाता नजर अा रहा है। मैरिज बैंक्वेट हाॅल संचालकाें के अनुसार अब तक सबसे ज्यादा बुंकिग जून माह की आई है।

मैरिज हाॅल खुलने की सूचना मिलते ही लगी भीड़
राजगढ़ राेड़ स्थित हाेटल लजीज के संचालक मनाेज बंसल का कहना है कि मैरिज हाल खुलने की सूचना मिलते ही लाेगाें ने शादी की बुकिंग करवाना शुरू कर दिया है। शनिवार काे भी उनके पास जून माह की 10 से ज्यादा बुंकिग आई है। प्राेग्राम के िलए हमने भी अपने पूरे स्टाफ काे नियमाें से अवगत करवा दिया है।

पेंडिंग शादियों की बुकिंग के लिए कर रहे संपर्क
रायपुर राेड स्थित बेस्ट वेस्टर्न इम्पेरियों के संचालक मुकेश गुप्ता का कहना है कि मैरिज हाॅल खुलते ही पहले से पैंडिग शादी की बुकिंग वाले लाेग सम्पर्क करने लगे हैं। शनिवार काे उनके पास जून माह के लिए 15 से ज्यादा बुंकिग आई है।

नए नियमों के कारण लोग नहीं करवा रहे बुकिंग
ताेशाम राेड स्थित टूलिप्स के संचालक संजय सातराेड़िया का कहना है कि उनके पास अभी तक उनके पास शादी की बुंकिग आनी शुरू नही हुई है। जिसका मुख्य कारण प्रदेश सरकार द्वारा शादी में केवल 50 लाेगाें काे शामिल करने का नियम है। वहीं दूसरा कारण शादी के लिए मैरिज हाॅल बुक करने में आने वाला ज्यादा खर्च भी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना