पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Mini Tempe Was Standing At Home In Hisar, 470 Km Away In Jedhpur, 2 Thousand Rupees Challan For Speeding Cut

अजब-गजब:हिसार में घर पर खड़ा था मिनी टेम्पाे, 470 किमी दूर जाेधपुर में कटा तेज रफ्तार का 2 हजार रुपए का चालान

हिसार13 दिन पहलेलेखक: महबूब अली
  • कॉपी लिंक
सुरेंद्र सिंह। - Dainik Bhaskar
सुरेंद्र सिंह।
  • न्यू माॅडल टाउन वासी सुरेंद्र बोला-मैसेज आया तो पता चला

न्यू माॅडल टाउन वासी चालक सुरेंद्र सिंह के साथ अजब तरह का मामला हुआ। उनका मिनी टेम्पाे 8 जुलाई काे घर के अंदर खड़ा था। इसी दाैरान हिसार से 470 किलोमीटर दूर जाेधपुर में आरटीओ ने सुरेंद्र के मिनी टेम्पाे का चालान कर दिया। सुरेंद्र का कहना है कि टेम्पाे काे लेकर कभी जाेधपुर गया ही नहीं। सुरेंद्र काे चालान का पता उस समय लगा जब उसके माेबाइल पर हाई स्पीड का चालान काटे जाने का मैसेज मिला।

अब सुरेंद्र पुलिस से लेकर आरटीए विभाग के चक्कर लगा रहा है। मगर उसकी काेई सुनवाई नहीं की जा रही है। न्यू माॅडल टाउन वासी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि वह मिनी टेम्पाे चलाकर परिवार का पालन का पाेषण करते हैं। 8 जुलाई काे वह घर ही माैजूद था। उन्हें मिनी टेम्पाे में हिसार से माल लेकर बहादुरगढ़ के लिए जाना था। सुबह 8:20 बजे उनके माेबाइल नंबर पर मैसेज आया। जिसमें लिखा था कि उसकी गाड़ी नंबर एचआर 49ई -4747 का हाई स्पीड का दाे हजार का चालान किया गया।

उसका दाे दिन से मिनी टेम्पाे घर पर ही खड़ा हुआ था तथा वह कभी जाेधपुर गया ही नहीं। सुरेंद्र ने पहले मामले की शिकायत पुलिस से की। इसके बाद आरटीए से की मगर उसकी काेई सुनवाई नहीं की गई। सुरेंद्र ने आशंका जताई है कि उसकी गाड़ी के नंबर की फर्जी नंबर प्लेट लगाकर काेई अन्य दूसरी गाड़ी चला रहा है। यदि गाड़ी से काेई हादसा हाेता है ताे वह खुद फंस सकता है। मामले की शिकायत वह एसपी बलवान सिंह राणा से भी करेगा।

फरवरी में विशाल नगर में घर पर खड़ी थी बाइक दिल्ली में कट गया था तेज रफ्तार का चालान

रायपुर रोड स्थित विशाल नगर में रहने वाले एक कारपेंटर का दिल्ली पुलिस ने तेज रफ्तार से कार चलाने का 2000 रुपये का चालान बीते फरवरी माह में काटा था। यह चालान 59 वर्षीय कारपेंटर सुरेंद्र के घर आया। यह चालान कार का था जबकि सुरेंद्र कुमार के पास कार थी ही नहीं, उनके पास बाइक थी, जाेकि घर पर खड़ी थी। दिल्ली में उनकी बाइक के नंबर की कार का चालान किया गया था। इसके अलावा सेक्टर 1-4 के युवक की कार भी हिसार में खड़ी थी। उसका चालान लुधियाना में कर दिया गया था।

एसडीएम दफ्तर और एसपी से करनी चाहिए शिकायत
रि. डीएसपी राजेश कुमार बताते हैं कि यदि किसी का वाहन घर पर ही खड़ा हुआ है तथा उसका चालान किसी बाहरी स्थान पर हाेता है ताे यह फ्राॅड की श्रेणी में आता है। अगर किसी के सामने ऐसा मामला आता है तो उसे तुरंत एसडीएम ऑफिस जाकर शिकायत करनी चाहिए और शिकायत की एक कॉपी एसपी ऑफिस में देनी चाहिए।

अगर पीड़ित ऐसा नहीं करता है तो पीड़ित अपने वाहन के नंंबर के गलत इस्तेमाल से बड़ी मुसीबत में भी फंस सकता है। कई बार हादसा करने, वारदात करने के बाद फ्राॅड गाड़ी चालक भागता है ताे उसमें सही गाड़ी मालिक के फंसने की पूरी संभावना बनी रहती है।

खबरें और भी हैं...