पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झूठा आश्वासन:पटेल नगर में न अस्थायी चौकी खुली, न सीसीटीवी कैमरे लगे

हिसार6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

करीब ढाई माह पहले भी कपड़ा शोरूम संचालक पर गोलियां चलाकर हत्या का प्रयास हुआ था। तब सुरक्षा के मद्देनजर पटेल नगर के बाशिंदों, व्यापारियों और शहर के मौजिज लोगों ने बाजार में अस्थायी चौकी खोलने, पुलिस गश्त बढ़ाने और सीसीटीवी कैमरे लगवाने की मांग की थी।

डीआईजी बलवान सिंह राणा ने अस्थायी चौकी पर विचार करने और सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस गश्त बढ़ाने का आश्वासन दिया था। वहीं डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने 5 लाख की लागत से सीसीटीवी लगवाने की घोषणा की थी। ऐसे में इन मांगों को गंभीरता से लिया होता तो शायद बाजार में जघन्य अपराध होने से रोका जा सकता था। शिखंडी की हत्या के बाद पटेल नगर के लोगों का कहना है कि पुलिस पीसीआर व राइडर जाने के बाद असामाजिक तत्वों की टोलियां सड़कों पर घूमती हैं।

यहां चौकी खुलने से बदमाशों में खौफ जरूर होता। पार्षद महेंद्र जुनेजा का कहना है कि एक युवक को चाकू से गोदकर मारा डाला। पटेल नगर में सुरक्षा बढ़ाई जानी चाहिए। डीआईजी से अस्थायी चौकी की डिमांड तक कर चुके हैं जोकि आज तक नहीं खुली।

सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगने हैं जिसके लिए डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा से मिला था। पूर्व घटना से पहले से पटेल नगर में पांच लाख की लागत से कैमरे लगवाने की घोषणा की थी। इसको लेकर डिप्टी स्पीकर ने मामले में संज्ञान लेकर जल्द कैमरे लगवाने का आश्वासन दिया।

वारदात में संलिप्त आरोपियों की धरपकड़ के लिए 2 डीएसपी के नेतृत्व में सात टीमों का गठन कर दिया है। पटेल नगर में सुरक्षा बढ़ाई है और संबंधित थाना-चौकी पुलिस को निरंतर गश्त रखने के निर्देश दिए हैं।'' बलवान सिंह राणा, डीआईजी।

पटेल नगर की मार्केट में वारदात से दहशत फैली है। व्यापारियों की सुरक्षा के मद्देनजर यहां चौकी तो खुलनी ही चाहिए। इसको लेकर डीआईजी से बात करेंगे। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस गश्त बढ़ाई जाए।'' गौतम सरदाना, मेयर।

खबरें और भी हैं...