पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Now, Farmers Are Giving Tips From Video Call For Farmers To Start Telecommunication In HAU, To Get Rid Of Crops And Increase Production

सुविधा:किसानों के लिए अब एचएयू में टेली एग्रीकल्चर की शुरुआत, फसलों काे राेगों से निजात दिलाने और उत्पादन बढ़ाने के लिए वीडियाे काॅल से वैज्ञानिक दे रहे टिप्स

हिसार15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रदेश के साठ हजार से अधिक किसान अभी तक टेली एग्रीकल्चर का उठा चुके लाभ एचएयू के ई-माैसम माेबाइल एप किया अपडेट, किसान फसल के साथ फाेटाे डाल ले रहे जानकारी

काेराेना काल में स्टूडेंंट्स की ऑनलाइन पढ़ाई की तर्ज पर प्रदेश के किसानों काे भी एचएयू के वैज्ञानिक फसलाें का उत्पादन बढ़ाने और राेगाें से निजात दिलाने का पाठ पढ़ाते नजर आ रहे हैं। काेराेना के चलते किसानाें काे फसलाें में लगने वाले राेग और अत्याधुनिक तरीके से फसल उगाने के लिए एचएयू ने टेली एग्रीकल्चर की शुरुआत की है। अब किसानों काे एचएयू के वैज्ञानिक वीडियाे काॅल के माध्यम फसलाें में लगने वाले राेग से बचाव के टिप्स दे रहे हैं।

यही नहीं सप्ताह में एक वेबिनार भी किसानाें के लिए कराया जा रहा है। एचएयू के कुलपति ने किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए 12 से अधिक वैज्ञानिकाें काे जिम्मेदारी साैंपी है। प्रदेश के विभिन्न गांव, कस्बाें के किसानों काे एचएयू अपने साथ जाेड़ रहा है, ताकि वह गांव के लाेगाें काे तकनीकी ज्ञान देकर खेती में सहयाेग कर उत्पादकता बढ़ा सके। किसान की फसल में जब कीटों का प्रकाेप बढ़ता है ताे वह सैंपल लेकर विवि या संबंधित कृषि विज्ञान केंद्र पर पहुंचता था।

वैज्ञानिक सैंपल के लक्षणाें काे देखकर उसकी दवाई या उसके निवारण के बारे में जानकारी देते थे। इस बार काेराेना के चलते ऐसा संभव नहीं हाे पा रहा था। इसके मद्देनजर एचएयू के वैज्ञनिकाें और प्रत्येक कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकाें काे टेली एग्रीकल्चर के व्हाट्सएप ग्रुप से जाेड़ा है। ग्रुप पर आने वाली किसानाें की समस्या का वैज्ञानिकाें द्वारा निदान किया जा रहा है।

वीडियाे काल आने पर भी किसानों काे पूरी जानकारी दी जा रही है। एचएयू ई-माैसम एचएयू माेबाइल एप से मैसेज और साेशल मीडिया के माध्यम से किसानों काे जानकारी देता रहा है। पहले वीडियाे काॅल से सलाह देने की सुविधा नहीं थी। ई-माैसम एचएयू माेबाइल एप काे भी अपडेट किया है। किसान अपनी व फसल की फाेटाे डालकर किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त कर सकता है। इसकी जिम्मेदारी एचएयू के कृषि माैसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डाॅ. मदन खिचड़ निभा रहे हैं।

किसानाें की इन समस्याओं का हाे रहा समाधान

काेराेना काल में किसानाें के लिए शुरू की टेली एग्रीकल्चर वरदान साबित हाे रही है। इसके लिए व्हाट्स एप ग्रुप से जुड़े किसान फसलाें में आ रहे राेग की फाेटाे भेजकर समस्या का समाधान पूछ रहे हैं। बीज, पाैध, कृषि यंत्राें के साथ कई किसान जैविक एवं प्राकृतिक खेती की भी जानकारी ले रहे हैं।

इन जिलाें से पहुंच रही सबसे अधिक समस्याएं :

हिसार, राेहतक, पानीपत, साेनीपत, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सिरसा, फतेहाबाद, भिवानी, चरखी दादरी, मेवात और कुरूक्षेत्र आदि से अधिक समस्याएं पहुंच रही हैं।

एप से हर सप्ताह 5 लाख किसानों काे दी जाती है जानकारी

एचएयू के कुलपति प्राे. समर सिंह ने बताया कि विवि ने ई-माैसम एचएयू माेबाइल एप डिवेलप किया था। इसके माध्यम से पहले से हर सप्ताह करीब पांच लाख किसानाें काे साेशल मीडिया, एसएमएस के माध्यम से माैसम, फसलाें में राेगाें से बचाव की जानकारी दी जा रही है। पचास हजार से अधिक लाेगाें ने एप्लीकेशन काे डाउनलाेड कर लाभ उठाना शुरू कर दिया है। इसके लिए कृषि माैसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डाॅ. मदन खिचड़ की जितनी सराहना की जाए कम है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें