8वीं पास ने बनाया ठगों का गैंग:ऑनलाइन मंगवाई ATM क्लोनिंग मशीन, 5 राज्यों में अंजाम दी वारदातें, हांसी पुलिस ने दबोचा

हिसार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़े गए आरोपियों के साथ हांसी पुलिस। - Dainik Bhaskar
पकड़े गए आरोपियों के साथ हांसी पुलिस।

हरियाणा के हांसी शहर की पुलिस ने ऑनलाइन ठगी करने वाले तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपी युवक हरियाणा, पंजाब, यूपी, हिमाचल, राजस्थान में ठगी की वारदातों को अंजाम देते थे। ठगों से पुलिस को 12 एटीएम कार्ड, 2 एटीएम क्लोनिंग मशीनें बरामद हुई हैं। ठग पहले एटीएम कार्ड चोरी करते, फिर सॉफ्टवेयर से उसका डाटा चोरी करके क्लोन तैयार करते और खाते से पैसे निकाल लेते। हैरानी की बात है कि ठग सिर्फ 8वीं, 10वीं और 12वीं पास हैं। हांसी पुलिस ने इस मामले में भाटोल रांगड़ान निवासी संदीप, उगालन निवासी सुरेंद्र व मसूदपुर निवासी जोनी को गिरफ्तार किया है।

एटीएम क्लोनिंग मशीन
एटीएम क्लोनिंग मशीन

पुलिस जांच में सामने आया है कि आरोपियों ने अमेरिका में बनी हुई दो एटीएम क्लोनिंग मशीनें खरीदी हुई थीं, जिनसे यह ठगी का खेल चला रहा था। जांच में यह भी सामने आया है कि आरोपी चोरी किए हुए एटीएम भी खरीदते थे और फिर मोबाइल मे इंस्टॉल EasyMSR नामक ऐप्लिकेशन से उसका क्लोन तैयार करके पैसे निकाल लेते थे या खरीदारी करते थे। इसके अलावा एटीएम बूथ में पैसे निकलवाने के लिए आने वाले लोगों को बातों में उलझाकर उनका पासवर्ड देखकर भी ठगी करते थे। आरोपियों ने सबसे ज्यादा ठगी की वारदात यूपी, पंजाब, हिमाचल व राजस्थान के एटीएम कार्डों से की हैं। पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश करके रिमांड पर लिया है।

खबरें और भी हैं...