पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बाधा:इंटरनेट बंद होने से पोर्टल ठप, वैक्सीनेशन का काम रुका

हिसार3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मैसेज भेजने और उनके सत्यापन से लेकर डाटा अपडेट और अपलोड करने का अनिवार्य काम नहीं हो सका

किसान आंदोलन के चलते इंटरनेट सेवा बंद होने का सीधा असर कोरोना वैक्सीनेशन पर भी पड़ा। मोबाइल एप कोविन पोर्टल से लाभार्थियों को मैसेज भेजने और उनके सत्यापन से लेकर टीकाकरण तक का काम अपडेट व अपलोड अनिवार्य है, जोकि इंटरनेट के बिना संभव नहीं है। इसलिए जिला में किसी भी सेशन साइट पर टीकाकरण नहीं हुआ है जोकि इंटरनेट सेवा बहाल के बाद शुरू होगा।

वहीं, कोरोना से बचाव का टीका लगवाने वाले करीब 50 फीसद प्रथम फ्रंटलाइन हेल्थ वॉरियर्स हैं। ऐसे में किन्हीं अस्पतालाें में 5-7 तो किन्हीं में 15-20 लाभार्थियों काे टीका लगना बाकी है। 5 एमएल वायल में 10 लाभार्थियों की डोज है जिसे सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है।

वहीं चुनिंदा लाभार्थियों के लिए साइट नहीं बनाई जा सकती है। इसके लिए सभी अस्पतालों को निर्देश दिए हैं कि वे स्वैच्छिक लाभार्थियों का नाम, उनका मोबाइल नंबर, ई-मेल आइडी इत्यादि की लिस्ट उपलब्ध करवाए। 50 या 100 का ग्रुप बनने पर फिक्सड साइट पर टीका लगाया जाएगा। 4 व 5 फरवरी को स्पेशल अभियान चलाकर स्वैच्छिक को टीका लगेगा जिसके बाद दूसरी डोज लगाने और सेकेंड फ्रंटलाइन वॉरियर्स के टीकाकरण की तैयारी शुरू होगी।

अभी जिले में टीकाकरण के लक्ष्य को पाने के लिए करनी होगी और मेहनत

डीआईओ डॉ. जितेंद्र शर्मा ने बताया कि 16 हजार 300 हेल्थ वर्करों का टीकाकरण होना है जिसमें अभी करीब 50 फीसद अचीवमेंट मिली है। कुछ ड्रग एलर्जी, प्रेग्नेंसी, ब्रेस्ट फीडिंग इत्यादि हेल्थ इश्यु के कारण टीका नहीं लगवा पाए हैं तो काफी एेसे हैं जोकि टीका नहीं लगवा रहे हैं। स्वैच्छा से टीका लगवाने वाले कम हैं।

महिला एवं बाल विकास विभाग के अफसरों को काफी बार कह चुके हैं कि आंगनवाड़ी वर्करों व हेल्परों को टीकाकरण के लिए साइट्स पर भिजवाए मगर सही रिस्पोंस नहीं मिल रहा है। इनका रिस्पोंस मिले तो वैक्सीनेशन अचीवमेंट भी बढ़ेगी। यह सुरक्षित वैक्सीन है जिससे घबराना नहीं चाहिए। बहुत से लोग जिन्हें टीका लगा है वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। ऐसे में स्वैच्छिक टीका लगवाने वालों की सूची बनाकर फिक्सड साइट बना देंगे। इससे वैक्सीन भी वेस्ट नहीं होगी और टीका भी लगेगा।

इसके बाद सकंड डोज व सेकंड फ्रंटलाइन वॉरियर्स के टीकाकरण की तैयारी भी करेंगे। वहीं, इंटरनेट सेवा बहाल होने पर टीकाकरण सुचारू होगा। इसमें अधिक समय नहीं लगेगा। जल्द ही टीकाकरण का काम तय शेड्यूल के मुताबिक शुरू कर देंगे।

कोरोना संक्रमण के 3 और केस मिले

जिला में कोरोना संक्रमित 3 केस मिले हैं। आइडीएसपी इंचार्ज डॉ. जया गोयल ने बताया कि अभी कोरोना पूरी तरह नहीं हारा है। इसलिए संक्रमण से बचने को मास्क जरूर पहनें। लोगों को अभी भीड़ में जाने और अनावश्यक यात्रा से परहेज करना चाहिए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें