• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Shop Owners Asked For 15 Days' Time; The Corporation Had Sealed The Building, Will Request To Open The AR Seal On Monday

एआर की टीम नवदीप काॅलाेनी में दुकानें ताेड़ने पहुंची:दुकान मालिकों ने 15 दिन का समय मांगा; निगम ने की थी बिल्डिंग सील, साेमवार काे एआर सील खुलवाने बारे करेंगे रिक्वेस्ट

हिसार19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नवदीप कॉलोनी में दुकानें तोड़ने पहुंची टीम व मौके पर एकत्रित लोग। - Dainik Bhaskar
नवदीप कॉलोनी में दुकानें तोड़ने पहुंची टीम व मौके पर एकत्रित लोग।

नवदीप काॅलाेनी में दूसरे दिन काॅ-अाॅपरेटिव साेसायटी की टीम दुकानें ताेड़ने के लिए पहुंची। टीम कार्रवाई के लिए पुलिस फाेर्स सहित पूरे अमले के साथ पहुंची। टीम के सामने दुकान बनाने वाले व्यक्ति ने 15 दिन का समय देने की मांग रखी। उन्हाेंने कहा कि नगर निगम ने ये बिल्डिंग सील की है। निगम काे रिक्वेस्ट लेटर दिया है।

उन्हें अगर 15 दिन का समय मिल जाएगा ताे वे इन दुकानाें काे खुद ताेड़ देंगे। दुकान बनाने वाले व्यक्ति ने टीम काे लिखित में दिया है। इस पर टीम वापस लाैट आई। असिस्टेंट रजिस्ट्रार एके संजीव ने बताया कि टीम के पास एडवाेकेट की शिकायत गई हुई थी। इस पर कार्रवाई की गई है। इसमें पहले डीआर ने जांच की थी। जिन्हाेंने जांच रिपाेर्ट में निर्माण गलत बताया था।

इधर.., शिकायतकर्ता के साथ मारपीट के मामले में पुलिसकर्मी सहित पांच पर केस

इधर आरओ प्लांट मामले में शिकायतकर्ता के साथ मारपीट करने के मामले में पुलिस कर्मी सहित पांच पर केस आरओ प्लांट मामले में रिटायर्ड पैरामिलिट्री ऑफिसर मनाेज ने प्लांट मालिक, पुलिस कर्मी व रिटायर्ड पुलिस कर्मी सहित पांच लाेगाें के खिलाफ केस दर्ज कराया है। इस मामले में पांच नामजद लाेगाें के अलावा कुछ अन्य पर भी आराेप है।

आजाद नगर थाना पुलिस काे शिकायत में बताया था कि राधेश्याम हाउस नंबर 613 नवदीप कॉलोनी ने आरओ प्लांट लगा रखा है जिस बारे नगर निगम में एक शिकायत दी गई थी। इस मामले की जांच के लिए 5 जनवरी काे दाेपहर करीब सवा 1 बजे नगर निगम के ईओ दीपक गोयल के नेतृत्व में टीम निरीक्षण के लिए आई थी।

इस दाैरान ईओ ने पूछताछ के लिए बुला लिया। बारिश के वजह से मुझे उन्हाेंने गाड़ी में बैठा लिया। मनाेज का आराेप है कि इसी दाैरान राधेश्याम व उसके पिता रामफल, पुलिस कर्मी सतीश, बलराज जाखड़, जयपाल ढांडा, दाे से तीन औरतें व तीन से चार अन्य लाेगाें के साथ माैके पर पहुंच गए।

उन्हाेंने इस दाैरान गाड़ी से नीचे खींचने की काेशिश की और लात घूंसे मारे और जान से मारने की धमकी दी। माैके पर अधिकारियाें की गाड़ी काे भी नहीं निकलने दिया। मारपीट के दाैरान शिकायतकर्ता काे घुटने पर गले पर तथा दाहिने कान के पास चोटें आईं। आजाद नगर थाना पुलिस ने इस मामले में राधेश्याम, रामफल, सतीश, बलराज, जयपाल सहित चार पांच अन्य लाेगाें के खिलाफ राेककर मारपीट करना व जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...