पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अपराध:संदीप से जेल में हुई थी सोनू की मुलाकात अपनी आईडी पर सिम ले भिजवाया था अंदर

हिसार/नारनौंद17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जेल से फोन कर शराब ठेकेदार से रंगदारी मांगने का मामला

जेल में बंद हत्या के आरोपी संदीप उर्फ बांगड़ू द्वारा शराब ठेकेदार जयपाल से रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस सिम की कॉल डिटेल निकालेगी। अब तक की पुलिस की छानबीन में सामने आया है कि संदीप को सिम सोनू द्वारा ही जेल में उपलब्ध कराया गया। सोनू ने यह सिम अपनी आईडी पर लेकर संदीप के पास पहुंचाया।

पुलिस को संदेह है कि शराब ठेकेदार के अलावा संदीप ने इस सिम से कुछ लोगों को भी फोन कर चौथ मांगी होगी। यह जानकारी जुटाने के लिए पुलिस सिम की सीडीआर लेगी। साइबर क्राइम सेल से इसके लिए मदद ली जा सकती है। पुलिस ने इस बीच संदीप को सिम पहुंचाने के आरोपी सोनू को अदालत में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

रिमांड के दौरान उससे गहन पूछताछ की जाएगी। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी संदीप और सोनू की मुलाकात जेल में हुई। दोनों हत्या के मामलों में बंद थे। संदीप पर उकलाना आरपीएफ चौकी के प्रभारी मनीष शर्मा की हत्या का मामला दर्ज है। सोनू 2014 में खेड़ी जालब में हुई हत्या के मामले में जेल में बंद था। कोरोना के चलते सोनू को पैरोल मिल गई। रिहाई के समय संदीप ने उसे सिम मुहैया कराने को कहा। सोनू ने बाहर रहते सिम लिया और संदीप तक पहुंचा दिया।

संदीप भी लोहारी का रहने वाला

संदीप द्वारा रंगदारी ठेकेदार जयपाल उर्फ झब्बू से मांगी गई। पुलिस को दी शिकायत में जयपाल ने कहा कि वह घिराय का रहने वाला उसका लोहारी में हिस्सेदारी में शराब का ठेका है। मंगलवार सुबह उनके मोबाइल नंबर पर कॉल आई। कॉल करने वाले ने कहा कि वह जेल से संदीप बोल रहा है।

जेल के अंदर खर्च पानी के लिए रुपये भेज दे, वरना जान से मार दूंगा। उकलाना में भी उसने मर्डर कर रखा है। पुलिस ने ठेकेदार की शिकायत पर केस दर्ज कर छानबीन शुरू की। छानबीन के दौरान सोनू नारनौंद के पुराने बस अड्डे से पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें