• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • The Daughter in law Is Running From Mother in law's Donated Kidney... It Is Not Mother in law, Mother in law, More To Give Program Organized, Honored

विश्व अंगदान दिवस:सास के दान किए गुर्दे से चल फिर रही बहू बाेली...यह सास नहीं मां है, मोर टू गिव कार्यक्रम अायाेजित, सम्मानित किया

हिसार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सास-बहू का खून का नाता ताे नहीं हाेता लेकिन उनका जुड़ाव दिल से व धर्म से जरूर हाेता है। एेसे ही रिश्ते काे एक सास ने अपनी बहू काे अंगदान देकर न सिर्फ अाैर ज्यादा खास बनाया है बल्कि अन्य लाेगाें के लिए मानवता की मिसाल भी पेश की है। सिरसा की चंद्रपति ने बहू सुनीता के गुर्दे खराब हाेने पर उसका साथ दिया। चंद्रपति ने बहू सुनीता के साथ अाधार अस्पताल द्वारा विश्व अंगदान िदवस पर अायाेजित मोर टू गिव कार्यक्रम में अाकर अपना अनुभव साझा किया। सुनीता ने बताया कि सास ने मां बनकर एक नया जीवन दिया है। पति ने पत्नी, भाभी ने देवर, बहन ने भाई, पिता ने बेटे काे गुर्दा दान करने वाले पहुंचे।

डायलिसिस की अपेक्षा गुर्दा प्रत्यारोपण अच्छाआधार अस्पताल के निदेशक डाॅ. हरीश शर्मा, गुर्दा रोग विशेषज्ञ डॉ. विजय कुमार, गुर्दा प्रत्यारोपण सर्जन डॉ. रवि शंकर कस्वां और डॉ. प्रतीक गुप्ता, निश्चेतन विशेषज्ञ डॉ. मोहर सिंह जाखड़ और डॉ. रामेश्वर लोढ़ा तथा किडनी ट्रांसप्लांट कोऑर्डिनेटर डॉ. संदीप कुमार ने लोगों को अंगदान का महत्व बताकर शंकाओं व भ्रांतियों का निवारण किया। आधार अस्पताल में 18 सफल गुर्दाें का प्रत्यारोपण किया गया है। डाॅ. कस्वां ने बताया कि डायलिसिस की अपेक्षा गुर्दा प्रत्यारोपण एक अच्छा विकल्प है।

किडनी : संकेत{बीपी अधिक रहना {शुगर अधिक होना {पत्थरी का होना {सूजन आना {भूख न लगना {थकान होना {खून की कमी होना

यह करना ही हाेगा गुर्दा राेग से बचना है ताे लाइफ स्टाइल में बदलाव करना होगा। नियमित सैर के साथ जंक फूड व मादक पदार्थों से दूरी बनानी होगी। नमक, तेल व चीनी का सीमित सेवन किडनी को स्वस्थ रखेगा। शराब व धूम्रपान से किडनी रोग को बढ़ाते हैं।

खबरें और भी हैं...