वन्य प्राणियाें की गणना:वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की टीम ने वन्य प्राणी विभाग के अफसरों काे दिए टिप्स

हिसार6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वन्य प्राणी विभाग के कार्यालय में वन्य प्राणियों की गणना की ट्रेनिंग लेतेे अधिकारी, कर्मचारी व अन्य। - Dainik Bhaskar
वन्य प्राणी विभाग के कार्यालय में वन्य प्राणियों की गणना की ट्रेनिंग लेतेे अधिकारी, कर्मचारी व अन्य।

हिरण, नील गाय, माेर, गीदड़, भेड़िया और पक्षियाें से लेकर अन्य वन्य प्राणियाें का अब विभागीय अधिकारियाें के पास पूरा ब्याेरा हाेगा। जल्द जंगलाें में रहने वाले वन्य प्राणियाें की गणना शुरू की जा सकेगी। गणना करने की ट्रेनिंग देने के लिए वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया देहरादून से डाॅ. ऑथर नूर के नेतृत्व में टीम पहुंची। शुक्रवार काे वन्य प्राणी विभाग के अधिकारियाें, कर्मचारियाें और वन्य प्राणी प्रेमियाें काे गणना करने के टिप्स दिए। 8 से 15 फरवरी तक हरियाणा में वन्य प्राणियाें की गणना की जाएगी।

दरअसल, कई बार देखने में आता है कि कुछ शिकारी नील गाय से लेकर हिरण, गीदड़ और अन्य वन्य प्राणियाें का शिकार करते हैं। विभाग के पास जंगलाें में रहने वाले वन्य प्राणियाें का ब्याेरा नहीं हाेता है। हालांकि, समय-समय पर विभागीय अधिकारी शिकारियाें काे गिरफ्तार कर सलाखाें के पीछे पहुंचाने में अहम भूमिका निभाते हैं। डीएफओ वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि देहरादून की टीम हिसार आकर वन्य प्राणियाें की गणना करने के संबंध में ट्रेनिंग दे रही है।

खबरें और भी हैं...