नौतपे का दूसरा दिन / उकलाना में थर्मल स्कैनिंग कर रहीं दो आशा वर्कर हुईं बेहोश, अग्रोहा में किसान की मौत

Two Asha workers performing thermal scanning in Ukala became unconscious, farmer died in Agroha
X
Two Asha workers performing thermal scanning in Ukala became unconscious, farmer died in Agroha

  • गर्मी ने तोड़ा 9 साल का रिकाॅर्ड, पारा 480 रहा

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 05:00 AM IST

हिसार. जिले में गर्मी प्रचंड पर है। आसमान से आग बरस रही है। मंगलवार काे हिसार का तापमान 48.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री दर्ज किया गया। माैसम विभाग के अनुसार इतना तापमान 9 साल पहले वर्ष 2010 में था। यानी 9 साल बाद एक बार फिर से रिकाॅर्ड ताेड़ गर्मी पड़ी है। इससे पहले 26 मई काे ही वर्ष 2010 में हिसार का अधिकतम तापमान 48.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।  वहीं अग्रोहा में खेत में गर्मी में काम करते समय मंगलवार दोपहर 48 वर्षीय एक किसान बेहोश हो गया। बाद में असपताल में उसने दम तोड़ दिया। दूसरी तरफ मंगलवार को उकलाना में कंटेनमेंट जोन में घर-घर स्कैनिंग कर रहीं दो आशा वर्कर गर्मी में चक्कर खाकर बेहोश हो गईं।

उन्हें टीम में शामिल सदस्य  दूसरे स्थान पर खुली हवा में पंखे के नीचे ले गए और उनकी पीपीई किट उतारी गई। दोनों आशा वर्करों को पहले एक निजी अस्पताल और बाद में सरकारी अस्पताल में स्थानीय उपचार के बाद घर भेजा गया। गर्मी का असर आम जनजीवन पर पड़ने लगा है। सड़कें दोपहर को सुनी दिखने लगी हैं। लाेग लू के चलते घराें से ही नहीं निकले। वहीं गर्मी में बिजली और पानी की खपत भी बढ़ गई है।

बेहोश आशा वर्कर्स को इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया ।  एसएमओ राजेश कुमार ने बताया कि थर्मल स्कैनिंग के दौरान सभी टीम के सदस्यों की ओर से पीपीई किट पहनी जाती है जिसमें पूरे शरीर पर किसी तरह की बाहरी हवा नहीं लग पाती। इसके साथ ही स्कैनिंग के दौरान पानी या खाने की चीजें भी नहीं ली जा सकती। ऐसी स्थिति में ड्यूटी दे रहे लोगों को गर्मी का सामना करना पड़ता है जिससे दिक्कत हो जाती है।  

हर फीडर पर बढ़ गया 25 से 40 एम्पियर लोड
तापमान बढ़ने पर बिजली निगम का इंफ्रास्ट्रक्चर जवाब देने लग गया है। बिजली घरों में बड़े ट्रांसफार्मर को ठंडा करने के लिए कूलर लगाए गए हैं। बिजली निगम के अधिकारियों का कहना है कि हर फीडर पर 25 से 40 एम्पियर लोड बढ़ गया है। जैसे ही लाइन ट्रिप होती है लोड उस दौरान 70 एम्पियर तक बढ़ जाता है।

रात में 12 बजे तक रहता है ज्यादा लोड
बिजली निगम के अधिकारियों का कहना है कि रात को 10 से 12 बजे तक फीडरों पर लोड ज्यादा रहता है। इस दौरान बिजली घरों पर लोड मेनटेन करने के लिए कई बार छोटे फीडरों को बंद करना पड़ता है। रात 12 बजे के बाद लोड कम हो जाता है। फिर एक बार दोपहर में लोड बढ़ता है।

- वर्जन --

^ गर्मी में तापमान बढ़ने से लोड बढ़ गया है। इस दौरान गर्मी में लोग कूलर और एसी अधिक यूज कर रहे हैं।
- राहुल सांगवान, एसडीओ, सिविल लाइन, डीएचबीवीएन।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना