जन संकल्प से हारेगा कोरोना:दिन में दो बार काढ़ा पीती थी, इम्युनिटी बढ़ाने और विटामिन सी के लिए भरपूर फ्रूट्स खाए

हिसार6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नर्स सुनीता। - Dainik Bhaskar
नर्स सुनीता।
  • कोरोना संक्रमण के बाद इच्छाशक्ति से महामारी को दी मात, परिवार ने बढ़ाया हौसला और देसी नुस्खे अपनाए

मेरी ड्यूटी सिविल अस्पताल के वार्ड नंबर-13 में थी। आठ अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव आई थी। हालात देखकर काफी घबरा गई थी। तेजी से फैलता संक्रमण जिंदगियां निगल रहा था। मगर स्वयं एक वॉरियर होने के नाते खुद को संभाला। हिम्मत बढ़ाई और घर में आइसोलेट रहकर संक्रमण से निपटने के लिए कुछ देसी नुस्खों को भी हथियार बनाया। दिन में दो से तीन बार काढ़ा पीती थी। इम्युनिटी बढ़ाने व विटामिन सी से भरपूर फ्रूट का सेवन किया। देसी खान-पान के अलावा अपना घरेलू काम खुद किया।

मेरे पति व बच्चे संक्रमण से सुरक्षित रहें इसके लिए अपना खाना खुद बनाती, बर्तन व कपड़े धोती थी। घर में रहकर सैर करती और मन को शांत रखने के लिए म्यूजिक भी सुन लेती थी। पति अरविंद व बच्चों ने कोरोना को हराने में मेरा सहयोग रहा। वे पास होकर भी थोड़ा दूर थे लेकिन मेरा हौसला बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

मुझे कोरोना के बारे में सोचने ही नहीं दिया। ऐलोपैथिक दवाइयां के साथ देसी नुस्खों ने कोरोना को मात देने में मदद की। मैं बिल्कुल स्वस्थ हूं। मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है और दोबारा अस्पताल में ज्वाइन कर लिया है।नर्स सुनीता | कोरोना वॉरियर

खबरें और भी हैं...