परिजनों की तलाश:12 वर्षीय बच्चा भटक कर रतिया पहुंचा, नहीं बता पा रहा अपना पता

रतिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रभजोत के अनुसार उसके पिता की मौत हो गई

पंजाब से एक 12 वर्षीय बालक शनिवार को भटक कर रतिया बस स्टैंड पहुंच गया। बालक को रोडवेज चालकों परिचालकों ने संभाला। उसे खाना खिलाया। वहीं सूचना शहर थाना व डायल 112 पर दी गई। बच्चा अपना नाम प्रभजोत सिंह बता रहा था लेकिन वह गांव का नाम बार- बार बदल कर बताता रहा। अड्डा इंचार्ज हरबंस सिंह की मौजूदगी में बच्चे को डायल 112 की गाड़ी के हवाले कर दिया। पुलिस बच्चे के परिजनों की तलाश कर रही है। परिजनों के आने के बाद उसे उनके हवाले किया जाएगा।

प्रभजोत के अनुसार उसके पिता की मौत हो गई है। वह स्कूल नहीं जाता। उसका कहना है उसकी माता का नाम वीरपाल कौर है। वह अपने गांव फग्गू से पहले सरदूलगढ़ गया और वहां से फतेहाबाद के रास्ते बस में रतिया पहुंच गया। बालक खुद को कभी सिरसा के गांव फग्गू का बता रहा है तो कभी बठिंडा का गांव फलड़। बाद में वह अपना गांव बुढलाडा का जवाहर के बताने लगा। दो दिन पहले यही बच्चा रोड़ी के गांव रोहन में मिला था। आसपास के लोगों ने उसे उसे रोड़ी थाना में पहुंचाया।

खबरें और भी हैं...