दवाई के पैसे न देने पर हुआ विवाद:दुकान में तोड़फोड़ करने पर मेडिकल संचालकों ने हाईवे पर लगाया जाम

रतिया9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नेशनल हाईवे पर नए बस स्टैंड के सामने जाम लगाते मेडिकल संचालक। - Dainik Bhaskar
नेशनल हाईवे पर नए बस स्टैंड के सामने जाम लगाते मेडिकल संचालक।

बस स्टैंड के सामने सालासर मेडिकल हाल पर शुक्रवार देर रात युवक ने दवाई के पैसे मांगने पर मेडिकल संचालक के साथ हाथापाई करते हुए देख लेने की धमकी दी। थोड़ी देर बाद युवक ने अपने साथियों के साथ वापस आकर उक्त मेडिकल पर तोड़फोड़ कर दी।

इसे लेकर मेडिकल संचालकों ने शुक्रवार देर रात बस स्टैंड देने के सामने जाम लगा दिया। मेडिकल संचालकों ने आरोप लगाया कि दुकान के बाहर पुलिस पीसीआर गाड़ी खड़ी थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उनके शोर मचाने के बावजूद काफी देर तक पुलिस नहीं आई। जब पुलिस आई तब तक आरोपी तोड़फोड़ करके वहां से फरार हो गए थे। इससे नाराज मेडिकल संचालक के परिजनों व अन्य लोगों ने रतिया-बुढलाडा रोड पर बस स्टैंड के सामने जाम लगा दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

मेडिकल संचालक कार्तिक गर्ग ने शीलू नामक युवक पर आरोप लगाया है। शीलू मेडिकल दुकान के सामने अंडों की रेहड़ी लगाता है। वह उनके पास दवाई लेने आया था, पैसे मांगने पर उसने झगड़ा शुरू कर दिया और अपने अन्य साथियों को बुलाकर उसकी दुकान में तोड़फोड़ कर दी।

इस दौरान जाम लगने और हंगामा होने की सूचना मिलने पर शहर थाना प्रभारी रूपेश चौधरी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए वहां मौजूद लोगों को खदेडऩा शुरू किया। पुलिस कुछ लोगों को पकड़ कर शहर थाने ले गई। थाना प्रभारी रूपेश चौधरी ने बताया कि मेडिकल हॉल में तोड़फोड़ और जाम लगने की सूचना मिली थी जिसके बाद वह मौके पर पहुंचे थे। विवाद की जांच कर रहे हंै।

खबरें और भी हैं...