पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

योजना:शहर को नहरी पानी मुहैया करवाने की तैयारी, 75 करोड़ का भेजा एस्टीमेट

रतिया16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रतिया. गांव रोजावली में भाखड़ा नहर जहा से शहर को नहरी पानी मिलेगा। - Dainik Bhaskar
रतिया. गांव रोजावली में भाखड़ा नहर जहा से शहर को नहरी पानी मिलेगा।
  • रतिया के जलघर तक पानी पहुंचाने के लिए बिछाई जाएगी 12 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन,भाखड़ा नहर से लेंगे पानी

शहर को नहरी पानी मुहैया करवाने के लिए जनस्वास्थ्य विभाग ने चीफ इंजीनियर को 75 करोड़ रुपये का एस्टीमेट भेजा है। इस राशि से भाखड़ा नहर से शहनाल रोड तक पाइप लाइन बिछाई जाएगी व शहर को पानी सप्लाई के लिए 5 बूस्टर, जलघर के भवन व टैंकों का निर्माण होगा।

जल घर बनाने के लिए विभाग को शहनाल रोड पर जाखन दादी में नगर पालिका ने 24 एकड़ 7 कनाल जगह पहले ही मुहैया करवा दी है। शहर को नहरी पानी मुहैया करवाने की मांग वर्षों पुरानी है। विस चुनाव में विधायक लक्ष्मण नापा ने शहरवासियों से नहरी पानी मुहैया करवाने का वादा किया था। राशि मंजूर होते ही जलघर का निर्माण शुरू होगा।

जानिए... यहां बनेंगे बूस्टर

शहर को पानी सप्लाई देने के लिए विभाग द्वारा बुढलाडा रोड, लाली रोड, तहसील के सामने, शहर थाना के पास व टोहाना रोड पर पीरखाना के पास बूस्टर स्थापित करने का प्लान है। इन बूस्टरों तक पाइप लाइन बिछाकर शहर में नहरी पानी की सप्लाई दी जाएगी। शहर में पेयजल सप्लाई की पाइप लाइन पहले से बिछी हुई है।

शहर काे नहीं मिल रहा था नहरी पानी

रतिया शहर व क्षेत्र में नहरों का जाल होने के बावजूद शहर के लोगों को नहरी पानी नहीं मिल रहा था। विभाग लोगों को शहर के भिन्न वार्डों में लगे 16 ट्यूबवेलों से पानी सप्लाई देता है। इससे हर साल भूजल खिसकने से कई बोर बंद भी हो रहे है। विभाग को हर साल लाखों रुपये खर्च कर नये ट्यूबवेल लगाने पड़ रहे है। लोग दो दशक से नहरी पानी की मांग कर रहे है। उनका कहना है कि भूमिगत पानी से ही लोग विभिन्न बीमारियों के शिकार हो रहे है। शहर की कुल आबादी 45 हजार है।

रोजावाली भाखड़ा नहर से मिलेगा पानी

शहनाल रोड पर बनने वाले जलघर के लिए पंजाब सीमा स्थित गांव रोजावाली की भाखड़ा नहर से पानी दिया जाएगा। इसके लिए विभाग द्वारा करीब 12 किलोमीटर लंबी 12 इंची पाइप लाइन बिछाई जाएगी। हालांकि जलघर से मात्र तीन किलोमीटर दूर रतिया मुख्य ब्रांच नहर व रत्ताखेड़ा ब्रांच नहरें गुजरती है लेकिन गर्मी के मौसम में नहर बंदी की समस्या को देखते हुए ही भाखड़ा नहर से पानी लेने का निर्णय लिया है। भाखड़ा नहर में साल भर पानी चलता रहता है।

75 करोड़ का एस्टीमेट भेजा है-विधायक

रतिया शहर को नहरी पानी मुहैया करवाने के लिए जगह मिल चुकी है। पाइप लाइन व निर्माण को लेकर 75 करोड़ रुपये का एस्टीमेट तैयार किया गया है। मैं खुद भी इस मामले में अधिकारियों के संपर्क में हूं। मंजूरी मिलते ही काम शुरू हो जाएगा और शहर के लोगों काे नहरी पानी मुहैया करवाने की वर्षों पुरानी मांग पूरी हो जाएगी।''

-लक्ष्मण नापा, विधायक, रतिया।

खबरें और भी हैं...