पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्कूल खोलने की तैयारी:एक दिन में 50 फीसदी बच्चे आएंगे स्कूल, मॉनिटरिंग के लिए कमेटी गठित, बीईओ करेंगे स्कूलों का निरीक्षण

सिरसा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिरसा। राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कक्षाओं को सैनिटाइज करते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
सिरसा। राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कक्षाओं को सैनिटाइज करते कर्मचारी।
  • शुक्रवार से 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए खुलेंगे स्कूल, एक-दूसरे की कक्षाओं में जाने पर रोक

सरकार के आदेश पर शुक्रवार को करीब 3 माह बाद 16 जुलाई से स्कूल खुलेंगे। कक्षा 9वीं से 12वीं के विद्यार्थियों तक की नियमित कक्षाएं लगेंगी। स्कूल प्रशासन कमरों को सेनिटाइज करने में जुट गया है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार स्कूलों में सावधानी बरती जाएगी। कक्षाएं सुबह साढ़े 8 से साढ़े 11 बजे तक लगेंगी । सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए विद्यार्थियों के बीच कम से कम छह फीट की दूरी रखी जाएगी।

वहीं विद्यार्थियों को एक-दूसरे की कक्षाओं में जाने पर रोक होगी। विद्यार्थी एक-दूसरे से स्टेशनरी भी शेयर नहीं करेंगे। जो विद्यार्थी घर रहकर पढ़ाई करना चाहते हैं उनके लिए ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। स्कूलों में उपस्थिति को लेकर कोई बाध्य नहीं है और न ही स्कूल आने का दबाव बनाया जाएगा।

स्कूल में आने के लिए विद्यार्थियों को माता-पिता से लिखित में अनुमति लानी होगी। हालांकि स्कूल में आने के लिए स्टूडेंट्स को मेडिकल सर्टिफिकेट नहीं लाना पड़ेगा। स्कूलों में एक दिन में 50 प्रतिशत ही बच्चे आएंगे। जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी स्कूल संचालकों को रोस्टर बनाने के निर्देश दिए हैं। मॉनिटरिंग के लिए स्कूलों में कमेटियां गठित की गई हैं।

स्टेशनरी भी नहीं करेंगे शेयर

स्कूलों में बच्चों को ऑड-इवन के तहत बुलाया जाएगा। एक दिन में 50 प्रतिशत ही बच्चे स्कूल आएंगे। एक कक्षा में 15 से 20 ही विद्यार्थी बैठेंगे। कक्षाओं में विद्यार्थी एक-दूसरे से स्टेशनरी भी शेयर नहीं करेंगे। शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों के पेरेंट्स से अपील की है कि बच्चों को साइकिल से स्कूल भेजें। जो विद्यार्थी पहले दिन जिस डेस्क पर बैठेगा, वह रोजाना उसी डेस्क पर बैठेगा। बच्चों के कक्षाओं को रोजाना दो बार सेनिटाइज करना होगा।

स्कूलों में बुलाई एसएमसी की मीटिंग

जिला शिक्षा अधिकारी संत कुमार ने सभी खंडों के बीईओ को स्कूलों में एसएमसी की मीटिंग लेने बारे भी निर्देश दिए हैं । जिसमें स्कूलों में एसओपी का पालन कराने के बारे में कहा गया है। वहीं स्कूलों में बीईओ को समय-समय पर निरीक्षण करने के भी निर्देश दिए हैं।

स्कूल संचालकों ने ऐसी की तैयारियां-

एंट्री-एक्जिट को लगाई लाइनें

अनाज मंडी रोड स्थित मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल मदन लाल मलिक ने बताया कि स्कूल में लगभग 9वीं से 12वीं के 1500 से ज्यादा स्टूडेंट्स हैं। सभी कक्षाओं को सेनेटाइज किया है। एंट्री व एक्जिट के लिए दो लाइनें लगवाई हैं। टीचरों की बैठक लेकर गाइडलाइन के बारे में निर्देश दिए हैं।

अवसर एप पर भेजेंगे रिपोर्ट

राजकीय गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल मेला ग्राउंड की प्राचार्या जसबीर कौर ने बताया कि स्कूल खोलने की पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। शिक्षकों की अलग-अलग ड्यूटियां लगाई हैं। कक्षाओं में ही टेम्प्रेचर चैक होगा। जिसकी रिपोर्ट अवसर एप नोट करके विभाग को भेजेंगे। स्कूल में 1000 से ज्यादा 9वीं से 12वीं तक छात्राएं हैं।

कक्षाओं में लगाए प्रॉपर डेस्क : रानियां रोड स्थित महाबीर दल हाई स्कूल की प्रिंसिपल सरोज ने कहा कि स्कूल में सफाई करवा दी गई है। गेट पर ही सेनेटाइजर व मास्क भी रखवा दिए जाएंगे। हालांकि 9वीं से 10वीं तक के लगभग 330 स्टूडेंट्स हैं। कक्षाओं में प्रॉपर डेस्क लगाए गए हैं।

पेरेंट्स बोलेः बच्चे को कोरोना हुआ तो कौन होगा जिम्मेदार

स्कूल खोलने को लेकर अभिभावक राधा रानी ने कहाा कि उनकी बेटी 10वीं कक्षा में पढ़ती है। जब तक कोरोना खत्म नहीं हो जाता, तक तक बेटी को स्कूल नहीं भेजेंगे। क्योंकि अगर स्कूल में किसी एक बच्चे को कोरोना हआ तो उसका जिम्मेदार कौन होगा। पेरेंट्स एसो. हरियाणा के उपप्रधान ने कहा कि अगर कोई भी बच्चा स्कूल में पॉजिटिव पाया जाता है तो उसकी स्कूल संचालकों को जिम्मेदारी लेनी होगी।

सीडीएलयू... यूजी व पीजी पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं 19 से पहले 16 से होनी थी शुरू, नई डेटशीट जारी

सिरसा, चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के इवन सेमेस्टर की स्नातक तथा स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं 19 जुलाई से प्रारंभ होंगी। परीक्षाएं प्रातःकालीन तथा सायं कालीन दोनों सत्रों में आयोजित होंगी। विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक प्रो. राजकुमार सलार ने कहा कि स्नातक के चौथे, छठे व आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं 19 जुलाई से प्रारंभ होंगी और परीक्षाओं की डेटशीट विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड करने के साथ-साथ संबंधित विभागों एवं कॉलेजों में भेज दी गई है।

उल्लेखनीय है की पहले ये परीक्षाएं 16 जुलाई से प्रारम्भ होनी थी, लेकिन प्रशासनिक कारणों की वजह से बुधवार को परीक्षा शाखा द्वारा संशोधित डेट शीट जारी की गई है। प्रो. सलार ने कहा कि स्नातकोत्तर के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं भी 19 जुलाई से प्रारंभ हो रही हैं। उन्होंने कहा कि स्नातक तथा स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के दूसरे सेमेस्टर की परीक्षाएं 2 अगस्त से प्रारंभ होंगी। परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर कोरोना महामारी से संबंधित राज्य तथा केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस की अनुपालना करते हुए परीक्षाएं करवाई जाएंगी।

9वीं से 12वीं तक 16 जुलाई से स्कूल खुलेंगे। स्कूलों को सेनेटाइज करने के निर्देश दिए गए हैं। एसओपी का पालन को स्कूलों में विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष के नेतृत्व में कमेटी बनेगी। स्कूल खुलने के पश्चात सभी बीईओ निरीक्षण भी करेंगे।'' -संत कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी, सिरसा।

खबरें और भी हैं...