पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मलेरिया और डेंगू से बचाव की मुहिम:मलेरिया और डेंगू से बचाव की मुहिम में 50 टीमें फील्ड में उतरीं, 9296 स्लाइड बनाईं, नहीं मिला कोई पॉजिटिव केस

सिरसा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मलेरिया से बचाव की मुहिम में लोगों के ब्लड सेंपल लेते विभागीय टीमें। - Dainik Bhaskar
मलेरिया से बचाव की मुहिम में लोगों के ब्लड सेंपल लेते विभागीय टीमें।
  • मच्छरों से फैलने वाले मलेरिया, डेंगू व चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए लोगों से किया सावधानियां बरतने का आह्वान

जिले में कोरोना के बाद अब मलेरिया व डेंगू से बचाव की मुहिम शुरु हो गई । इसकी रोकथाम में संबंधित विभागों की जिम्मेदारियों को तय किया गया है । वहीं लोगों में जागरुकता लाने को मलेरिया विभाग की 50 टीमें फील्ड में उतरीं हैं । पिछले तीन साल में पॉजिटिव मरीजों के आसपास घरों से आशंकितों के ब्लड सैंपल लिए गए हैं । मई तक 9296 स्लाइडें बनाई गई । हालांकि कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है, जबकि बीते वर्ष 8 मरीज सामने आए थे । लोगों की जागरुकता व विभाग की सतर्कता से मलेरिया मरीजों का ग्राफ साल- दर साल कम हो गया है ।

साल- दर- साल घटे मलेरिया के मरीज

वर्ष मरीज
2013 - 1615
2014 - 603
2015 - 152
2016 - 112
2017 - 56
2018 - 49
2019 - 48
2020 - 08

जानिए इन विभागों की रहती है जिम्मेदारी

शहर में फोगिंग और साफ सफाई रखवाने की जिम्मेदारी नगरपरिषद प्रशासन की होती है, जबकि ग्रामीण इलाकों में यह भूमिका सरपंचों की ओर से हर साल निभाई जाती है, लेकिन इस बार बीडीपीओ ऑफिस स्तर पर करवाया जाएगा । वहीं पब्लिक हेल्थ विभाग को पेयजल कनेक्शन लीकेज का ध्यान रखना होता है, क्योंकि जलभराव रहने से मच्छर पनपता है ।

लोक निर्माण एवं बीएंडआर को टूटी सड़कों की रिपेयर करवाने का जिम्मा हर साल सौंपा जाता है । ताकि बरसाती सीजन में जलभराव की स्थिति न बने । इसके अलावा मलेरिया विभाग की टीमों को गलियों में जमा पानी पर तेल डलवाने, एंटी लारविल का छिड़काव करवाने, लारवा पाए जाने पर फोगिंग करवाने की जिम्मेदारियों को निभाना होता है । जिससे मलेरिया व डेंगू की रोकथाम की जा सकती है ।

जिले में नहीं कोई मलेरिया केस

मलेरिया से बचाव बारे विभागीय टीमें लोगों में जागरुकता लाने में जुटी हैं । 9296 स्लाइडें बनाई गई हैं । लेकिन फिलहाल कोई पॉजिटिव केस नहीं है । संबंधित विभागों की जिम्मेदारियां तय हैं, इसलिए आमजन भी सहयोग करें ।
- डॉ. दीप गगनेजा, उप सिविल सर्जन एवं जिला मलेरिया अधिकारी, सिरसा ।

खबरें और भी हैं...