• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Annakoot And Govardhan Festivals Were Celebrated With Reverence And Enthusiasm Throughout The District, Devotees Chanted The Name Of God In The Temples.

मंदिराें में बांटा अन्नकूट प्रसाद:जिलेभर में अन्नकूट व गोवर्धन पर्व श्रद्धा एवं उत्साह के साथ मनाया, मंदिरों में श्रद्धालुओं ने भगवान के नाम का सिमरन किया

सिरसा21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिलेभर में अन्नकूट व गोवर्धन पर्व का आयोजन श्रद्धा एवं उत्साह के साथ हुआ। मंदिरों व आश्रमों में आयोजित भंडारों में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। कई मंदिरों में अन्नकूट का प्रसाद पैक करके दिया। वहीं सायं श्रद्धालुओं ने गोवर्धन पर्व पर पूजन किया। श्रद्धालुओं ने गोबर से गोवर्धन बना कर अनाज के साथ पूजन किया। गोवर्धन पर्व एवं श्री विश्वकर्मा दिवस जिलाभर में शुक्रवार को मनाया गया। शहर के विभिन्न मंदिरों में गोवर्धन पर्व एवं अन्नकूट महोत्सव को श्रद्धापूर्वक मनाते हुए पूजा अर्चना की गई। विभिन्न स्थानों पर हवन यज्ञ के साथ हुए इस आयोजन में 56 भोगों का प्रसाद वितरित किया गया।

इस दिन भगवान श्रीकृष्ण, गोवर्धन पर्वत, गायों आदि की पूजा की जाती है। मान्यता है कि भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करने के बाद गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करने से विशेष फल मिलता है। लोग घरों में गोबर से गोवर्धन पर्वत बनाकर जल, मौली, रोली, चावल, दही और दीप जलाकर पूजा अर्चना करते हैं।

शहर में स्थित मंदिरों के अलावा सामूहिक रुप से भगवान श्री कृष्ण में आस्था रखने वाले श्रद्धालुओं ने विभिन्न स्थानों पर भंडारा लगाते हुए प्रसाद वितरित किया। जिसमें हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। बता दें कि दीपावली का पूजन होने के बाद ही शहर में स्थित विभिन्न मंदिरों में भक्तजन अपनी तैयारियों में जुटे गए थे। रात भर जागते हुए भक्तिमय माहौल में प्रसाद बनाने की तैयारियां शुरु की गई। शुक्रवार को 11 बजे से भगवान का भोग लगाकर भक्तों ने अन्नकूट का प्रसाद ग्रहण किया। शहर के सालासर धाम मंदिर, श्रीराधा-कृष्ण मंदिर, श्री अग्रवाल सेवा सदन, खाटू श्याम धाम, मुल्तानी कॉलोनी स्थित शिव मंदिर, शिव चौक स्थित गौशाला मंदिर, बड़ा हनुमान मंदिर सहित विभिन्न गोशालाओं व अन्य मंदिरों में अन्नकूट पर्व धूमधाम से मनाया गया।

कारीगरों और मिस्त्रियों ने औजारों की पूजा की

जिलेभर में शुक्रवार को भगवान श्री विश्वकर्मा जी को दस्तकारों, कारीगरों, मिस्त्रियों ने श्रद्धा के साथ याद किया। प्रात:काल हवन-यज्ञ के अनेक स्थानों पर भंडार तथा प्रसाद वितरित किया गया। ऑटो मार्केट स्थित विश्वकर्मा मंदिर में हवन यज्ञ उपरांत भंडारे का आयोजन हुआ। वहीं जनता भवन रोड स्थित ऑटो मार्केट में भी कारीगरों व मिस्त्रियों ने मशीनों व औजारों की पूजा की और पूजा के बाद कारीगरों व मिस्त्रियों ने रिपेयर का काम भी नहीं किया। मिस्त्रियों ने दुकानें दिन भर बंद रखीं।

खबरें और भी हैं...