नशा तस्करी पर लगाम की तैयारी:5 लाख रुपये की नगदी, 60 ग्राम चिट्टे के साथ गिरफ्तार

सिरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5 साल से चिट्टा की तस्करी कर रहे चाचा ने भतीजा काे भी बना दिया तस्कर

जिला में नशा तस्करी का नेटवर्क बढ़ता जा रहा है । पुलिस नशा के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। हैरानी की बात है कि बार बार पकड़े जाने और जेेल जाने के बाद भी आरोपी जमानत पर बाहर आकर फिर से इस धंधे में लग जाते हैं। अब एक बार भाई से भाई मिलकर और चाचा से भतीजा मिलकर नशा तस्करी का नेटवर्क चलाते पकड़े गए हैं।

बुधवार को भी जिला एंटी नारकोटिक्स सेल के इंचार्ज दाताराम ने नशा तस्करी के नेटवर्क पर प्रहार करते हुए सगे चाचा भतीजा को 60 ग्राम चिट्टे और लाखों की नगदी के साथ एक कार में गिरफ्तार किया है। चाचा पांच बार जेल जा चुका है, जबकि भतीजा भी दो बार नशा तस्करी में जेल की हवा खा चुका है। जमानत पर बाहर आकर फिर से नशा तस्करी करने लग जाते हैं। वहीं कालांवाली सीआईए ने भी 20 ग्राम चिट्टा के साथ दो भाईयों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है।

पंजाब से नशा खरीदने को निकले थे चाचा-भतीजा

बुधवार को चाचा भतीजा कार में नशा बेचने और पंजाब से नशा की खेप लाने के लिए जा रहे थे। रास्ते में जिला एंटी नारकोटिक्स सेल की टीम ने दोनों को दबोच लिया। उनसे लाखों की नगदी और 60 ग्राम चिट्टा बरामद किया गया है।

पकड़े गए आरोपी की पहचान सुरजीत उर्फ सितु निवासी भावदीन व उसका भतीजा सुखप्रीत सिंह उर्फ सूखा निवासी शक्ति नगर सिरसा हाल भावदीन के रुप मे हुई। एंटी नारकोटिक सेल सिरसा की टीम सब इंस्पेक्टर दाता राम के नेतृत्व में भावदीन से बरुवाली रोड़ टी प्वाइंट संगर साधा के पास खड़ी थी। शक होने पर गाड़ी को रोककर पुलिस ने राजपत्रित अधिकारी के सामने तलाशी ली।

इधर... पिता के निधन के बाद 2 भाई बन गए तस्कर

कालांवाली सीआईए पुलिस ने नशा तस्करी में शामिल दो सगे भाइयों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है। दोनों से 20 ग्राम चिट्टा बरामद हुआ है। कुछ समय पूर्व इनके पिता की मौत हो गई थी। उसके बाद बड़ा भाई हत्या के मामले में जेल चला गया। जमानत पर बाहर आकर नशा तस्करी करने लगा।

उसने अपने छोटे भाई को भी अपने साथ शामिल कर लिया। बड़ा खरीदकर लाता था और छोटा नशेडि़यों को चिट्टा बेच रहा था। अब दोनों कालांवाली सीआईए पुलिस के हत्थे चढ गए हैं। दोनों भाइयों की पहचान अर्जुन उर्फ गोरु व कर्ण कुमार उर्फ सोभी निवासी चंडीगढ़िया मोहल्ला सिरसा के रुप में हुई है।

खबरें और भी हैं...