पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Bharukhera Faction Said Wherever There Will Be A Road Jam In The Entire District, It Will Support It, Bhati Faction Has Objected.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों ने रोड जाम करने का किया ऐलान:भारूखेड़ा गुट बोला- पूरे जिला में जहां भी रोड जाम होगा उसको करेंगे समर्थन, भाटी गुट ने जताया ऐतराज तो हुई बहसबाजी

सिरसा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कृषि बिलों के विरोध में 24 दिनों से पक्का मोर्चा लगाकर धरने पर बैठे किसानों के संगठन में एक बार फिर फूट पड़ गई है। इस बार भी फूट धरने के नेतृत्व को लेकर पड़ी है। हालांकि अभी दोनों ही पक्ष इसका बचाव करने की कोशिश कर रहे हैं, मगर शुक्रवार को दोनों की आपसी तनातनी खुलकर सामने आ गई। भगत सिंह स्टेडियम में चल रहे धरने पर दोनों गुट के नेताओं में बहसबाजी हुई और माइक छीनने तक की नौबत आ गई।

आखिर में किसानों ने बीच बचाव करके मामले को निपटाया है। अब दोनों ही पक्ष फूट की बात को लेकर खुलकर बोलने से बच रहे हैं, मगर दबी जुबान में एक दूसरे पर चौधर करने का आरोप जड़ रहे हैं। मामले के मुताबिक शुक्रवार को 5 नवंबर को होने वाले रोड जाम को लेकर रणनीति बनाई जानी थी। इसी बीच दोनों पक्षों में विवाद हो गया। राष्ट्रीय किसान संगठन के प्रदेशाध्यक्ष जसबीर भाटी ने किसान मंच के नेता प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा पर एकतरफा अपनी चौधर चलाने का आरोप जड़ दिया।

भाटी ने माइक पर कहा कि जब दोनों संगठन एक हुए थे तो एक सांझी 12 सदस्यीय कमेटी बनाई गई थी। जिसमें तय हुआ था कि आंदोलन को लेकर जो भी रणनीति बनेगी। वह कमेटी में विचार विमर्श करके बनाई जाएगी। मगर संगठन के कुछ नेता अपनी चौधर दिखाने के चलते कमेटी के बिना ही फैसला लेकर लागू कर रहे हैं। जिसका वे विरोध करते हैं।

इसके बाद प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने माइक संभाला और 5 नबंवर को किसानों की ओर से किए जाने वाले रोड जाम को लेकर अपनी रणनीति का खुलासा करते हुए बताया कि जिला में किसी भी जगह रोड जाम या प्रदर्शन होगा। उसका हमारा पक्का मोर्चा समर्थन करेगा। यह किसानों की लड़ाई है। जरूरी नहीं एक जगह ही रहकर लड़ी जाए। भारूखेड़ा के इस बयान से दूसरे गुट के नेता नाराज हो गए और भारूखेड़ा को कोसना शुरू कर दिया।

शहीद भगत सिंह स्टेडियम में किसानों के धरने पर जब किसान नेता प्रह्लाद सिंह भारूखेड़ा बोल रहे थे। उसी समय किसान संगठन से जुडे शिअद समर्थक लखविंद्र सिंह उठे और प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा से माइक छीन लिया। इससे दोनों पक्षों में बहसबाजी बढ़ गई। इस मामले को लेकर लखविंद्र सिंह ने कहा कि किसान एकजुट हैं। जो थोड़े बहुत मनमुटाव है वे कमेटी सदस्य मिलकर सुलझा लेंगे। साथ ही उन्होंने प्रह्लाद सिंह भारूखेड़ा पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि कोई पीली पगड़ी बांधने से भगत सिंह नहीं बनता। उसके लिए कुर्बानियां देनी पड़ती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें