गिरफ्तार / बहनोई व उसका बेटा निकले मुख्य आरोपी 5 गिरफ्तार, 9 रुपये लाख भी किए बरामद

Brother-in-law and his son turned out to be the main accused 5 arrested, recovered 9 lakh rupees
X
Brother-in-law and his son turned out to be the main accused 5 arrested, recovered 9 lakh rupees

  • 9 लाख रुपये की लूट की वारदात को पुलिस ने 12 घंटे में सुलझाया

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

सिरसा. रोडी थाना के गांव अलीकां के पास गुरुवार दोपहर को हुई 9 लाख रुपये की लूट को सीआईए सिरसा और रोड़ी पुलिस की टीम ने केवल 12 घंटे की अवधि में ही सुलझा लिया है। पुलिस ने वारदात में शामिल पांचों लोगों को गिरफ्तार करके 9 लाख रुपये की राशि भी बरामद कर ली है। 


    खास बात यह रही कि इस वारदात को अंजाम देने वाला कोई और नहीं बल्कि शिकायतकर्ता बलदेव सिंह निवासी मानसा का ही बहनोई और उसका बेटा है। दोनों ने मिलकर लूट की वारदात का प्लान बनाया और अपने साथियों को साथ लेकर वारदात की थी। डीएसपी, सीआईए व रोड़ी थाना प्रभारी ने संयुक्त रुप से बताया कि पुलिस अधीक्षक डॉ. अरुण ने मौका पर पंहुच इस वारदात को शीघ्र अति शीघ्र सुलझाने के लिए सीआईए सिरसा व रोड़ी थाना की पुलिस टीमों का गठन किया था।

आरोपी गुरजीत सिंह उर्फ गिटा पर हत्या का केस

लूट में शामिल आरोपी गुरजीत सिंह उर्फ गिटा निवासी नागोकी हत्या के मामले में जिला जेल में सजा काट रहा था और फिलहाल पैरोल पर आया हुआ था । वह बसंत सिंह उर्फ वीरु का दोस्त है। इसलिए वारदात में वह शामिल हुआ। गुरजीत पर बड़ागुढ़ा थाना में 23 अप्रैल 2015 को हत्या का केस दर्ज हुआ था और वह जेल से 13 अप्रैल 2020 को पैरोल पर आया हुआ था । 

9 लाख देख बाप-बेटे के मन में आ गई थी बेइमानी

रोडी थाना प्रभारी बताया कि 30 साल पहले बलदेव ने नागोकी में एक एकड़ खरीदी थी। उस पर बलदेव के बहनाई नक्षत्र और उसके भाइयों ने कब्जा कर लिया। बलदेव ने इस विवाद को मिटाने के लिए ही अपने चारों सालों से कहा कि इस जमीन के वे पैसे ले और जमीन बेच दे। जब वह गाड़ी में पैसे लेकर निकलने लगा तो नक्षत्र और उसके बेटे वीरू के मन में बेईमानी आ गई और लूट की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना