पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निर्देश:सिविल अस्पताल के डॉक्टरों को लिखनी होंगी जेनरिक दवाएं

सिरसा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सरकारी अस्पतालों में सस्ते इलाज की मरीजों को दरकार है। कुछ डॉक्टरों की कथित सेंटिंग ने रोगियों को मंहगे इलाज के लिए मजबूर कर दिया है। यह मामला महानिदेशक स्वास्थ्य सेवाएं हरियाणा के संज्ञान में आया है। जिसकी शिकायतें मिलने के बाद मुख्यालय ने सभी सीएमओ को पत्र जारी किया है। जिसमें डॉक्टरों को मरीजों की ओपीडी स्लिप पर जेनरिक दवाइयां ही लिखने की सख्त हिदायत दी है। जो दवाएं स्टॉक में उपलब्ध नहीं, तो ओपीडी स्लिप में एनए मार्क करने उपरांत फार्मासिस्ट को हस्ताक्षर करने होंगे। हालांकि इससे पहले भी ऐसा पत्र मुख्यालय ने जारी किया था, लेकिन इसके बावजूद डॉक्टरों की मनमानी जारी है। जिला के मरीजों को अब सरकारी अस्पतालों में सस्ता इलाज मुहैया होने की उम्मीद जगी है। सिविल अस्पतालों में प्रतिदिन 900 से ज्यादा मरीजों की ओपीडी होती है।

जबकि कोरोना काल से पहले यह आंकड़ा 2500 तक पहुंचता था। फार्मासिस्ट की मानें तो अस्पतालों में लगभग 216 तरह की आवश्यक दवाएं उपलब्ध रहती हैं, बल्कि कुछ दवाइयां लोकल अनुबंधित एजेंसियों से खरीदी जाती हैं। इसके बावजूद कई तरह की दवाएं उपलब्ध नहीं होती, तो मरीजों को बाहर निजी मेडिकलों से खरीदनी पड़ती हैं।

जहां मेडिकल स्टाेर संचालक उन्हें ब्रांडेड दवाइयां देते थे, तो मरीजों का उपचार महंगा होता था। लेकिन स्वास्थ्य मुख्यालय के निर्देशानुसार सरकारी अस्पतालों में अब कोई भी डॉक्टर मरीज को ब्रांडेड दवा नहीं लिख सकेगा। सबसे पहले डॉक्टर को वह दवा लिखनी होगी, जो सरकारी डिस्पेंसरी में उपलब्ध हो। यहां दवा उपलब्ध ना होने की एवज में पर्ची पर ब्रांडेड नहीं बल्कि जेनरिक दवा ही लिखने की हिदायत है। जबकि हालही में जिला अस्पताल से रोजाना कई पर्चियां सीधा निजी मेडिकल स्टोर में पहुंचती हैं और वहां से महंगी व ब्रांडेड दवाएं लेने को मरीज बेबस हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें