सुविधाओं का टोटा:सीएमओ समेत डीसी के संज्ञान में लाने के बाद भी नहीं मिली कंपोनेंट मशीन

सिरसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चेताया : मांग पूरी नहीं किए जाने पर हर रोज एक गांव की पंचायत सौंपेगी ज्ञापन - Dainik Bhaskar
चेताया : मांग पूरी नहीं किए जाने पर हर रोज एक गांव की पंचायत सौंपेगी ज्ञापन
  • ब्लड बैंक में कंपोनेंट मशीन की व्यवस्था हो तो बचेंगी हजारों जिंदगियां

समाजसेवी संस्थाओं ने जिस प्रकार कोरोना काल में पूरी तन्मयता से अपने फर्ज को निभाया। ठीक उसी प्रकार अब डेंगू के बढ़ते प्रकोप में भी संस्थाएं अपना दायित्व बखूबी निभा रही हैं। वहीं अगर जिला प्रशासन व विभाग इस अभियान में कंपोनेंट मशीन की व्यवस्था करवा दे तो हजारों लोगों की जिंदगियों को बचाया जा सकता है। उक्त बातें पब्लिक रिलेशन हैल्प फाउंडेशन के पदाधिकारी जयप्रकाश गोदारा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि सिरसा जिला रक्तदान के क्षेत्र में नित नई मिसाल कायम कर रहा है। हमारे जिले में बहुत सी सामाजिक संस्थाएं एक मंच पर आकर सामाजिक क्षेत्र विशेषतौर से रक्तदान के क्षेत्र में शानदार कार्य कर रही हैं। उन्होंने बताया कि जिले के सरकारी ब्लड बैंक में हर समय पर्याप्त मात्रा में रक्त रहता है व जरूरत के समय बैंक की एक पुकार पर रक्तदान शिविर हाथों-हाथ तैयार हो जाता है। हमारा पूरा जिला रक्तदान के प्रति जागरूक हो चुका है, लेकिन इतना सब कुछ होने के बाद भी ब्लड बैंक में कंपोनेंट मशीन का न होना एक कांटे की तरह चुभता है। इस मशीन की सहायता से रक्त के कंपोनेंट्स को अलग करके जरूरत के मुताबिक प्रयोग करके एक ही यूनिट से कई जानें बचाई जा सकती हैं।

गोदारा ने बताया कि इस सुविधा के लिए हमें निजी ब्लड बैंक पर निर्भर रहना पड़ता है व जरूरत पडऩे पर सरकारी ब्लड बैंक को दूसरों का मुंह ताकना पड़ता है। अन्य जिलों में सरकारी ब्लड बैंकों के पास यह सुविधा मौजूद है, जबकि पूरे भारत में रक्तदान के क्षेत्र में सर्वोच्च स्थान होने के बावजूद सिरसा जिले में यह सुविधा अभी तक मौजूद नहीं है। गोदारा ने बताया कि वर्तमान में डेंगू का प्रकोप बढ़ा हुआ है और रक्त के लोगों को काफी समय इंतजार करना पड़ रहा है।

ऐसे में कंपोनेंट मशीन की उपलब्धता और बढ़ जाती है। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व भी सीएमओ व जिला उपायुक्त को कंपोनेंट मशीन के लिए ज्ञापन देकर अवगत करवा चुके हैं लेकिन मामला अभी ठंडे बस्ते में ही है। उन्होंने चेताते हुए कहा कि अगर उपायुक्त व सीएमओ ने इस संबंध में जल्द कोई ठोस कदम नहीं उठाया तो प्रतिदिन एक गांव की पंचायत ज्ञापन सौंपने के लिए पहुंचेगी। इस मौके पर रमेश गोदारा, रमन लखुआना, शहीद भगत सिंह ब्रिगेड से कुलदीप सुथार, पवन कुमार, रामदत्त व संदीप मंगाला उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...