पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:मांग और मुद्दा एक लेकिन कार्यक्रम दो जगह समागम में भी किसान संगठन नहीं दिखे साथ

सिरसा2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के दशहरा ग्राउंड में शहीदे आजम भगत सिंह के चाचा अजीत सिंह की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे किसान। - Dainik Bhaskar
शहर के दशहरा ग्राउंड में शहीदे आजम भगत सिंह के चाचा अजीत सिंह की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे किसान।
  • दशहरा ग्राउंड में और भावदीन टोल पर अजीत सिंह की जयंती पर हुए कार्यक्रम

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर शहर के दशहरा ग्राउंड में हरियाणा किसान मंच के बैनर तले शहीदे आजम भगत सिंह के चाचा अजीत सिंह की जयंती पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें शहीद ए आजम भगत सिंह के भांजे प्रो. जगमोहन ने अजीत सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा किसानों के खिलाफ कानून अंग्रेजों के जमाने से बनते आ रहे हैं और आज भी बन रहे हैं।

इन कानूनों के खिलाफ हम सबको मिलकर लड़ाई लड़नी होगी। सरदार अजीत सिंह ने अपनी किताब पगड़ी संभाल जट्टा के माध्यम से देशवासियों को अपने अधिकारों के लिए जागरूक होने का आह्वान किया था।किसान नेता जोगेंद्र सिंह उगराहा ने कहा कि कृषि कानूनों से अड़ानी अंबानी जैसे बड़े आढ़तियों को खुली छूट मिल जाएगी। हरियाणा के कैथल में गोदाम बनाया गया है।

जहां दो लाख टन अनाज के भंडारण की क्षमता है। कृषि कानूनों लागू होने के बाद निजी मंडियों की आड़ में सरकारी मंडियां बंद हो जाएगी और एमएसपी पर सरकारी खरीद होगी ही नहीं। किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि किसान अपने हक लेने के लिए जाग चुका है।

देशभर के किसान जाग चुके है और अब यह आंदोलन कृषि कानून वापस लेने के बाद ही खत्म होगा। सरकार कह रही है कृषि कानून में काला क्या है। कृषि कानून ही बदनीयती से लागू किए गए हैं। मनजीत सिंह धनेर ने कहा कि हरियाणा व पंजाब के किसानों के भाईचारे से कृषि कानूनों के खिलाफ चलाई जंग जीत चुके हैं। विकास सीसर ने कहा कि किसान झंड़े की अलग पहचान बन चुकी है। सिरसा में दोनों संगठन ने अपने अलग अलग कार्यक्रम किए।

किसान नेताओं को मंच पर ले जाने के लिए बाउंसरों की तैनाती

हरियाणा किसान मंच के नेता प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने कहा कि सरकार को सबक सिखाने के लिए देश का किसान व जवान तैयार है। जब-जब जनता सड़कों पर उतरी है, तब-तब क्रांति आई है। इस बार भी एक ऐसी क्रांति आएगी, जिसे युगों-युगों तक याद किया जाएगा।कार्यक्रम में विभिन्न गुरुद्वारों व समाजसेवी संस्थाओं की तरफ से आए हुए लोगों के लिए लंगर, चाय इत्यादि की व्यवस्था रही।

पंडाल में आने वाले किसान नेताओं को मंच पर ले जाने के लिए बाउंसरों की व्यवस्था की गई थी। हरियाणा किसान मंच के अलावा दूसरे गुटों ने कार्यक्रम से दूरियां बनाए रखी। हरियाणा किसान सभा के पदाधिकारी भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। सिरसा बाइपास पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान आने वाले लोगों को सुरक्षित सड़क पार करवाने के लिए वॉलंटियर्स की डयूटी लगाई गई थी ।

इस मौके पर सतपाल सिंह सिरसा, दलजीत सिंह रंगा, स्वर्ण सिंह विर्क, जिंदा नानूआन, सुखचैन सिंह, सुखविंद्र सिंह, हैप्पी रानियां, वेद चामल, दयाराम फतेहपुरिया, सुखा सिंह पटवारी, गुरमंगत सिंह, राजपाल सिंह पूर्व एसडीओ, लक्खा सिंह अलीकां, काका पंजुआना, हरपाल सूरतिया, लक्खा रंगा, नी सूरतिया, गुरदीप सिंह आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें