पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रोष:पक्का मोर्चा पर धरनारत किसानों ने कृषि बिलों के विरोध में फूंके सरकार के पुतले, तैनात रहा पुलिस बल

सिरसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्र सरकार की ओर से पारित किए गए तीन किसान विरोधी बिलों के विरोध में रविवार को दशहरे के दिन पक्का मोर्चा पर धरनारत किसानों ने भूमणशाह चौक पर पीएम सहित दस नेताओं के पुतले फूंके। जिनमें सीएम मनोहर लाल, अंबानी, अडानी, जेपी नड्ढा, केंद्रीय मंत्री तोमर, बिजली मंत्री रणजीत सिंह, उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पुतले शामिल थे।

पक्का मोर्चा पर धरनारत किसानों की ओर से पुतले फूंके जाने की सूचना पर जिला प्रशासन पहले से अलर्ट हो गया था। सुबह से लघु सचिवालय परिसर की तरफ पुलिस तैनात की गई। किसानों की ओर से होने वाले हर घटनाक्रम पर पुलिस व जिला प्रशासन नजर रखे हुए था। जैसे ही किसान पुतलों को फूंकने के लिए चौक की तरफ रवाना हुए, तो शहीद भगत सिंह स्टेडियम से लेकर भूमणशाह चौक तक भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया।

किसानों ने शांतिपूर्वक पुतलों को फूंका और इसके बाद सभी किसान यहां से रानियां पहुंचे और दुष्यंत चौटाला के कार्यक्रम का विरोध किया।प्रदर्शन की अध्यक्षता हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा सहित अन्य किसान संगठनों के नेताओं ने की। इस मौके पर प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने कहा कि हर बार दशहरे पर लोग रावण के पुतले जलाते हैं।

लेकिन वर्तमान भाजपा सरकार में तो एक नहीं अनेकों रावण इस समय देश की जनता को खाए जा रहे हैं। भारूखेड़ा ने कहा कि देश के ये रावण धीरे-धीरे कर देश को ही बेचने पर आमादा हैं। अपने चहेते पूंजीपतियों को लाभ देने के लिए मेहनतकश किसान वर्ग को भी वर्तमान सरकार ने कहीं का नहीं छोड़ा। किसान को अपनी फसल बेचने के लिए अब कारपोरेट घरानों के हाथों की कठपुतली बनना पड़ेगा।

रानियां में मजदूरों और आढ़तियों ने अनाज मंडी में निकाला रोष मार्च

केंद्र सरकार की ओर से लागू किए गए तीन कृषि बिलों कानून के खिलाफ स्थानीय अनाज मंडी में आढ़तियों, मजदूरों, किसानों, मुनीमों, पेस्टिसाइड्स डीलरों ने एकत्रित होकर केंद्र व प्रदेश सरकार के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए रोष मार्च निकाला। इससे पूर्व उन्होंने दशहरे के अवसर पर केंद्र व सरकार सरकार को रावण रूपी विनाशक बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर, सीएम मनोहर लाल खट्टर, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और सांसद सुनीता दुग्गल के पुतलों की शव यात्रा निकाली और पुतले फूंककर अपना विरोध प्रकट किया। इसके अलावा तीन कृषि कानूनों के खिलाफ महिलाओं ने पानी के मटके फोड़कर और मजदूरों ने सिर मुंडवाकर अपना विरोध जाहिर कर तीन काले कानून वापिस लेने की मांग की।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें