प्रशासन की नाकामी:5 जगह लगी आग, गोदाम में वायर के 70 बंडल जले दमकल की 2 गाड़ियों ने 3 घंटे में आग पर काबू पाया

सिरसा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में पटाखों पर प्रतिबंध के बावजूद लोगों ने आधी रात्रि तक पटाखे फोड़े। ऐसे में जहां प्रशासन पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने में नाकाम दिखा। वहीं पटाखों से गांव वैदवाला के पास रिद्धि-सिद्धि इलेक्ट्रीशियन इंजीनियर कंस्ट्रक्शन कंपनी में लगी आग से वायर जल गई। सुबह कर्मचारी नींद से जागा तो कंपनी संचालक और फायर ब्रिगेड को सूचित किया। जिसके बाद दमकल की दो गाड़ियों ने 3 घंटे में आग पर काबू पाया। वहीं पटाखों से शहर की नहर कॉलोनी, राम कॉलोनी, गांव साहुवाला व गांव खैरकां सहित चार जगह आग लगी। उधर, पटाखों की आड़ में खेतों में 16 किसानों की ओर से पराली जलाने की लोकेशन हरसेक से आई हैं।जिला में पाॅल्यूशन 2.5 का स्तर शुक्रवार दोपहर तक 295 माइकाेग्राम तक पहुंचा। जबकि पीएम 10 का लेवल 274 माइकोग्राम रहा। हालांकि दीपावली से पहले दिन 2.5 का स्तर 230 व पीएम 10 का लेवल 210 था।

जगमग योजना में इस्तेमाल होने वाली वायर जली

शहर में पटाखों की गूंज आधी रात्रि तक सुनाई दी। इसी बीच किसी पटाखे या आतिशबाजी ने गांव वैदवाला के पास रिद्धि-सिद्धि इलेक्ट्रीशियन इंजीनियर कंस्ट्रक्शन कंपनी के गाेदाम में रखे जगमग योजना में इस्तेमाल होने वाली वायर के 70 बंडल ऐसे सुलगाए कि दीवाली की सुबह तक 70 हजार मीटर मोटी प्लास्टिक कवर की वायर जलकर राख हो गई। जिसकी कीमत करीब 2 करोड़ बताई गई है। कंपनी प्रबंधक वीरेंद्र गुप्ता ने बताया कि आसपास के लोगों के अनुसार रात्रि एक बजे आग लगी थी। लेकिन उन्होंने पराली में आग लगना समझा। सुबह उसका कर्मचारी नींद से जागा तो गोदाम में वायर के बंडल से धुआं उठते देखा। आग लगने की सूचना तुरंत दमकल विभाग को दी गई। विभाग की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची। 3 घंटे में आग पर काबू पाया गया। लेकिन तब तक पूरी वायर के बंडल जलकर राख हो गए थे।

जिले में दमकल की गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाई

जिला में पटाखों के कारण 4 अलग-अलग जगह आग लग गई। दमकल की गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। पहली घटना शहर की नहर कॉलोनी स्थित फुटपाथ के किनारों पर वृक्षों में पटाखों से आग लग गई। दूसरी घटना बरनाला रोड स्थित राम कॉलोनी की है, जहां पर एक कचरे के ढेर में आग गई। तीसरी घटना गांव साहुवाला में लकड़ियों में पटाखा गिरने से आगजनी हुई। चौथी घटना खैरेकां-बनसुधार रोड पर लकड़ियों में आतिशबाजी गिरने से आग लग गई। चारों जगह दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाया।

दीपावली की रात्रि को आसमान में धुंए का गुबार छाया रहा

दीपावली पर जिले में 16 जगह आग की लोकेशन आई है। दीपावली की रात्रि को आसमान में धुंए के गुबार छाया रहा। इस दौरान आंखों में जलन भी महसूस की गई। जिला में फरवाई, पनिहारी, सिकंदरपुर, रसूलपुर, माधोसिंघाना, खाजाखेड़ा, किराड़कोट, मांगेआना, भुर्टवाला, कुत्ताबढ़, रोड़ी, मोचीवाली व गिदड़ खेड़ा में हरसेक पर 16 जगह आग की लोकेशन आई है। अब लोकेशन पर कृषि विभाग के अधिकारी मौके पर जाकर देखेंगे।

खबरें और भी हैं...