• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Govind Kanda Filled Nomination For Ellenabad By election 2021 In Presence Of Subhash Barala, Farmers Showed Black Flags Outside SDM Office

ऐलनाबाद उपचुनाव के लिए गोविंद कांडा ने भरा नामांकन:सुभाष बराला भी रहे मौजूद; SDM ऑफिस के बाहर किसानों ने दिखाए काले झंडे, पुलिस ने किए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

ऐलनाबाद/सिरसा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ऐलनाबाद उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करते गोविंद कांडा। - Dainik Bhaskar
ऐलनाबाद उपचुनाव के लिए नामांकन दाखिल करते गोविंद कांडा।

ऐलनाबाद उपचुनाव 2021 के लिए भाजपा-जजपा गठबंधन के उम्मीदवार गोविंद कांडा ने भी गुरुवार का नामांकन दाखिल किया। उनका नामांकन भरवाने के लिए भाजपा के दिग्गज नेता सुभाष बराला पहुंचे हैं। नामांकन पत्र दाखिल करने के समय भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़, सांसद सुनीता दुग्गल और जजपा प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह, बिजली मंत्री रंजीत सिंह भी मौजूद रहे।

लेकिन गोविंद कांडा के नामांकन भरने से पहले किसानों ने एसडीएम कार्यालय का घेराव कर लिया। किसानों का कहना है कि वह भाजपा प्रत्याशी का ही विरोध करने आए हैं। वहीं हालात को काबू करने के लिए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए सिरसा के डीसी अनीश यादव व एसपी अर्पित जैन भी मौके पर मौजूद रहे।

गोविंद कांडा का नामांकन भरवाने के लिए पहुंचे सुभाष बराला।
गोविंद कांडा का नामांकन भरवाने के लिए पहुंचे सुभाष बराला।

एक वीडियो जारी करके भाजपा का आभार जताया
वहीं नामांकन भरने के लिए कांडा महल से निकलने से पहले गोविंद कांडा ने एक वीडियो जारी किया, जिसमें उन्होंने टिकट देने पर भाजपा का धन्यवाद किया। बता दें कि गोविंद कांड सिरसा के विधायक और हरियाणा लोकहित पार्टी के अध्यक्ष गोपाल कांडा के छोटे भाई हैं। हलोपा नेता गोविंद कांडा कुछ दिन पहले ही भाजपा में शामिल हुए हैं। गोपाल कांडा ने भी भाजपा को समर्थन दिया हुआ है।

गोपाल कांडा के छोटे भाई हैं गोविंद कांडा
गोविंद कांडा सिरसा के रहने वाले हैं। वे हरियाणा लोकहित पार्टी के मुखिया विधायक एवं पूर्व गृहमंत्री गोपाल कांडा के छोटे भाई हैं। भाजपा ने इस सीट के लिए 17 नामों पर मंथन किया था। जिसमें से गोविंद कांडा को टिकट दिया गया है। गोविंद कांडा अपने भाई गोपाल कांडा की हलोपा पार्टी की तरफ से दो बार रानियां सीट से चुनाव लड़ चुके हैं।

गोविंद कांडा नामांकन भरने के दौरान दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ।
गोविंद कांडा नामांकन भरने के दौरान दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ।

2014 और 2019 में गोविंद कांडा को मिली हारसाल 2014 में गोविंद कांडा इनेलो प्रत्याशी रामचंद कंबोज से हारे थे। कंबोज को 43 हजार 971 वोट मिले थे तो कांडा को 39 हजार 656 वोट मिले थे। गोविंद 4315 वोटों से हारे थे। साल 2019 में रानियां सीट से आजाद चौ. रणजीत सिंह विजयी रहे थे, उन्हें 53 हजार 825 वोट मिले थे। जबकि गोविंद कांडा को 33 हजार 394 वोट मिले थे और वे 19 हजार 431 के अंतर से हार गए थे।

सिरसा से विधायक हैं बड़े भाई गोपाल कांडा
गोविंद कांडा के बड़े भाई गोपाल कांडा सिरसा से विधायक हैं और उन्होंने बीजेपी सरकार को अपना समर्थन दिया हुआ है। इस अनुसार समीकरण लगाए जा रहे हैं कि गोविंद कांडा को भाजपा-जजपा और हलोपा पार्टी का समर्थन हासिल है। वहीं एक चर्चा ये भी है कि बड़े भाई गोपाल कांड ने लॉबिंग करके भाई गोविंद कांडा को ऐलनाबाद उपचुनाव के लिए भाजपा उम्मीदवार बनवाया है।

खबरें और भी हैं...