पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Martyrs Of Shaheed Bhagat Singh, Who Came To Support The Movement Of Farmers, Prof. Jagmohan, Said Government Wants To Bring Company Raj

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विरोध:किसानाें के आंदोलन का समर्थन करने पहुंचे शहीद भगत सिंह के भांजे प्रो. जगमोहन, बोले-कंपनी राज को लाना चाहती है सरकार

सिरसा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिरसा| शहीद भगत सिंह स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जगमोहन सिंह और उपस्थित किसान। - Dainik Bhaskar
सिरसा| शहीद भगत सिंह स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित जगमोहन सिंह और उपस्थित किसान।

बरनाला रोड स्थित शहीद भगत सिंह स्टेडियम में चल रहे पक्का मोर्चा धरनास्थल पर शनिवार को शहीद भगत सिंह के भांजे प्रो. जगमोहन सिंह पहुंचे। जिन्होंने कहा कि मौजूदा भाजपा सरकार अंग्रेजों के जमाने के कंपनीराज को भारत में लाना चाहती है। जबकि हमारे देश के जवानों ने कम उम्र में कंपनी राज के खिलाफ लड़ाई लड़ते हुए शहदात दी थी। प्रो. जगमोहन ने कहा कि पिछले कुछ समय से देश में पैदा हुए हालात अंग्रेजों के राज की याद दिलाते हैं।

उस वक्त भी अंग्रेजों के मनमर्जी के कानून होते थे। वही नीतियां वर्तमान सरकार लेकर आ रही है। सभी सरकारी विभागों को निजी हाथों में सौंपकर सरकार आमजन के लिए मुश्किलें पैदा कर रही हैं। इस मौके पर हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने कहा कि मौजूदा सरकार देश को पूंजीपतियों का गुलाम बनाना चाहती है, जिसे किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। देश का जागरूक नागरिक अब सरकार की भाषा को समझने लगा है।

सरकार की नीतियों को अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आंदोलन को चहुंओर से भारी जनसमर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि बार-बार सरकार से वार्ताओं का दौर चल रहा है, लेकिन सरकार टस से मस नहीं हो रही है। ऐसे में अब सरकार से आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। इस मौके पर हैप्पी रानियां, गुरदीप बाबा, प्रो. हरभगवान चावला, का. स्वर्ण सिंह विर्क, भाई कन्हैया आश्रम के संचालक गुरविंद्र सिंह ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए।

डबवाली में निकाला कार व ट्रैक्टर मार्च ताे रंगड़ी खेड़ा की महिलाओं ने बनाई 15 क्विंटल पिन्नियां

कृषि कानूनों को रद्द कराने के लिए किसानों ने गांव गांव और डबवाली शहर में ट्रैक्टर जागरूकता किसान रैली निकाली। इसके तहत शनिवार को टोल से शुरू कर गांवों में होकर डबवाली शहर में ट्रैक्टर मार्च निकाल कर किसानों ने एकजुट होकर गलत कानूनों को रद्द कराने के लिए 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर लेकर पहुंचने का आह्वान किया। किसान गुर प्रेम सिंह देसू जोधा, एसपी मसीतां, संजय मिड्ढा, ओम प्रकाश भाटी रिसालिया खेड़ा, बलजीत सिंह मसीतां, जगसीर सिंह, गुरमेल सिंह, गुरतेज सिंह, भोलू सिंह, दविंदर सिंह, समराज सिंह मटदादु, सुरेश, मिट्ठू कंबोज, वेदपाल लखुआना, सोनी सिंह, अमित रिसालिया खेड़ा, ओमप्रकाश, रोहतास नागल, मोहित पारीक, जयमल नागल, रमेश मांडन सहित बड़ी संख्या में युवाओं और किसानों ने ट्रैक्टरों पर सवार होकर पंजाब सीमावर्ती ग्रामीण इलाके सहित शहर में ट्रैक्टर मार्च निकालते हुए सरकार के खिलाफ रोष जाहिर किया

वहीं वहीं सिरसा में कृषि कानूनों के खिलाफ कड़ाके की ठंड में दिल्ली में आंदोलन कर रहे लाखों किसानों का हर कोई समर्थन व सहयोग कर रहा है। गांवों से ग्रामीण प्रतिदिन ट्रैक्टर-ट्रालियों में राशन, लकड़ियां, गद्दे, रजाइंया व खाने-पीने का सामान लेकर दिल्ली बार्डर पर पहुंच रहे हैं।

ऐसे में सिरसा के गांव रंगड़ी खेड़ा की महिलाओं ने काले कानूनों के खिलाफ सड़कों पर संघर्ष कर रहे अपने किसान भाईयों-बहनों के लिए अपने हाथों से 15 क्विंटल पीन्नियां बनाई हैं। रविवार सुबह रंगड़ी खेड़ा के ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्रालियों में ये पीन्नियां लेकर टिकरी बॉर्डर रवाना होंगे। ग्रामीण महिलाओं ने काजू, बादाम, किसमिश, खसखस व गूंद मिलाकर 11 क्विंटल पीन्नियां व गुड़ से चार क्विंटल पीन्नी बनाई है। इससे कड़ाके की ठंड में आंदोलनरत्त किसान भाईयों व बहनों को ताकत मिलेगी। पीन्नियों की एक, दो, तीन व पांच किलोग्राम की पैकिंग तैयार की गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser