पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शुभ मुहुर्त:एक दिन में हुईं 300 से अधिक शादियां, कहीं दिखी लापरवाही तो कहीं थर्मल स्कैनिंग तक के इंतजाम

सिरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लॉकडाउन के कारण बंद पड़ी शादियों का सिलसिला बुधवार से देवोत्थान एकादशी यानी देवउठनी ग्यारस के साथ शुरू हुआ। जिला में मेरिज पैलेसों, धर्मशालाओं, निजी होटलों में एक दिन में 300 से ज्यादा शादियां हुई। मेरिज पैलेसों में एक दिन में दो-दो शादी समारोह हुए। 12 दिसंबर के बाद गुरु और शुक्र अस्त होने यानी तारा डूबने के बाद शादियों पर ब्रेक लग जाएगा।

इसके बाद लोगों को 111 दिनों का इंतजार करना पड़ेगा। 25 अप्रैल के बाद से फिर शहनाइयां गूजेंगी। संक्रमण को लेकर भी लोग शादियों में सावधानियां नहीं बरत रहे तो कुछेक निजी होटल व पैलेस में सावधानियां बरत रहे हैं। गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग व आने-जाने वाले प्रत्येक मेहमान के हाथों को सेनिटाइज किया जा रहा है।

जिला में 30 से ज्यादा पैलेस हैं। हिसार रोड स्थित प्रीतम पैलेस के संचालक अश्विनी मिढ़ा ने बताया देवउठनी पर ज्यादा शादियां हुई। सभी पैलेसों में एडवांस दिन-रात डबल बुकिंग थी। आगे भी एक-एक दिन में दो-दो विवाह समारोह होंगे। 12 दिसंबर तक पैलेस, निजी होटल व धर्मशालाओं की बुकिंग है। लॉकडाउन की वजह से अधिकांश विवाह समारोह टल गए थे।

12 दिसंबर तक गूंजेंगी शहनाइयां

हनुमान मंदिर के पुजारी पंडित अवधेश दीक्षित ने बताया कि देवोत्थान एकादशी को देवउठनी ग्यारस भी कहते हैं। इस बार देवात्थान पर शादी करना शुभ माना जाता है। 12 दिसंबर तक शादियों का सीजन रहेगा। इसके बाद तारा डूब जाएगा। फिर 25 अप्रैल के बाद विवाह का दोबारा शुभ मुर्हूत शुरू होगा। देवउठनी पर बहुत शादियां हुई हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser