पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नए कृषि कानून का विरोध:दो दिनों में एक हजार से अधिक किसान गाजीपुर और टिकरी बार्डर रवाना, मौन जुलूस निकाल जताया विरोध

सिरसा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिरसा। दिल्ली में हिंसा के बाद मौन जुलूस निकालते किसान, सिरसा। दिल्ली में हिंसा के बाद मौन जुलूस निकालते किसान, इस दौरान कई संगठनों के सदस्य, किसान और ग्रामीणों ने हाथों में तख्ती लेकर अपना विरोध दर्ज करवाया। - Dainik Bhaskar
सिरसा। दिल्ली में हिंसा के बाद मौन जुलूस निकालते किसान, सिरसा। दिल्ली में हिंसा के बाद मौन जुलूस निकालते किसान, इस दौरान कई संगठनों के सदस्य, किसान और ग्रामीणों ने हाथों में तख्ती लेकर अपना विरोध दर्ज करवाया।
  • किसान खुद का राशन साथ लेकर जा रहे दिल्ली, प्रशासन रख रहा आंदोलन पर नजर

दिल्ली हिंसा के बाद किसानों का दोबारा दिल्ली कूच शुरू हो गया है। अब एक बार फिर नेशनल हाइवे पर किसानों के ट्रैक्टर ट्राली और अन्य वाहनों की कतारें लगी हुई है। शनिवार को को जिला के करीब 20 गांव से 500 से अधिक किसान जत्थे बनाकर दिल्ली के टिकरी और गाजीपुर बार्डर के लिए रवाना हुए। खास बात यह रही कि सभी अपने साथ राशन पानी का इंतजाम करके जा रहे हैं। किसानों का कहना है कि वे अब तभी वापस लौटेंगे जब सरकार कृषि बिल वापस लेगी।

इधर खुइया मलकाना और भावदीन टोल पर भी किसान जमे हुए हैं। पुलिस दोनों टोल पर तैनात है। शनिवार को जिला के गांव गडियाखेड़ा, करीवाला, मोडियाखेडा, कंवरपुरा, जीवननगर, काशीका बास, ऐलनाबाद, रूपावास, रोड़ी, चौटाला, दादू, अमृतसर, रूपाणा और डिंग मंडी सहित अन्य जगह से 20 से 25 लोगों के जत्थे बनकर ट्रैक्टर ट्रालियों में दिल्ली के लिए रवाना हुए। प्रशासन की तरफ से किसानों के जाने की रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

किसानों की एकजुटता ने केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार की मंशा पर फेरा पानी: भारूखेड़ा

हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा जाट धर्मशाला में पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्वक तरीके से चल रहे आंदोलन को कुचलने के लिए सरकार ने कई औच्छे हथकंडे अपनाए, लेकिन जनता की एकता ने सरकार की हर चाल को नाकाम कर दिया।

इस आंदोलन का हीरो कोई व्यक्ति विशेष नहीं, बल्कि जनता ही असली हीरो है। अफवाहें फैलाकर किसान आंदोलन को तोड़ने का काम किया, लेकिन आंदोलन और मजबूत बनकर उभरा है। प्रहलाद सिंह ने कहा कि 26 जनवरी को जो उपद्रव दिल्ली में हुआ, उसमें किसानों का कोई हाथ नहीं है।

सरकार के ही कुछ लोगों ने उपद्रव कर किसानों के माथे पर इसका दाग लगाने का प्रयास किया किसान नेता राकेश टिकैत के साथ जो वाकया हुआ, उसके बाद से किसान दोहरी ताकत से इस आंदोलन में जुट रहे हैं। उन्होंने पंजाबी कलाकार का जिक्र करते हुए कहा कि दीप सिधु बीजेपी का ही व्यक्ति था, ये बातें उनकी बीजेपी नेताओं के साथ आ रही तस्वीरों से उजागर हो गया है। हिंसा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की बजाय पुलिस ने किसान नेताओं के खिलाफ देशद्रोह से लेकर अन्य धाराओंं में केस दर्ज कर दिया।

मुंह पर पट्‌टी बांध निकाला मार्च

अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर शनिवार को किसानों की ओर से उपवास रखकर बाजारों में मौन मार्च निकाला गया। जिसमें कई सामाजिक एवं कर्मचारी संगठनों से हिस्सा लिया। इस दौरान किसान मुहं पर पट्टी बांधे हुए थे और हाथों में हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई लड़कर लेंगे पाई- पाई और आपस में सब भाई- भाई के नारे लिखी तख्तियां थामे हुए थे। किसानों का यह मौन मार्च दोपहर को शहीद भगत सिंह स्टेडियम में पक्का मोर्चा से चला।

बरनाला रोड होते हुए अंबेडकर चौक व रेडलाइट चौक पर पहुंचा। जहां किसान नेताओं ने अपनी बात रखी और वापस पक्का मोर्चा पर पहुंचे। उधर भावदीन व खुइयांमलकाना टोल प्लाजा को किसानों ने 38 दिनों से बंद किया हुआ है। जहां किसानों का धरना लगातार जारी है। हालांकि किसानों ने उपवास के तहत लंगर- भंडारे को बंद रखा गया।

आंदोलन के लिए 50 रुपए प्रति एकड़ चंदा जुटाने का पंचायतों में फैसला: डबवाली| गांव में रोजाना किसान पंचायत कर प्रत्येक घर और खेत को आंदोलन से जोड़ने की मुहिम चलाई जा रही है। जिसके तहत प्रत्येक एकड़ खेत के पीछे ₹50 चंदा जुटाने का फैसला लिया जा रहा है। इसी योजना के तहत शनिवार को सभी गांव से किसान निधि वाहनों में दिल्ली के लिए रवाना हुए। विधानसभा से इस्तीफा देने वाले विधायक अभय सिंह के पैतृक गांव चौटाला में भी ऐसा फैसला किया गया है। वहीं सिरसा जिले के पहले महाग्राम गंगा में भी ऐसा फैसला किसान पंचायत के दौरान लिया गया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें