पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना का गिरता ग्राफ:58 दिनों बाद कोरोना से नहीं कोई मौत; जिले में 20 नए संक्रमित मिले, 32 ठीक होने पर डिस्चार्ज

सिरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में शुक्रवार को 58 दिनों बाद कोरोना से कोई मौत नहीं है। यह बड़ी राहत भरी खबर है। वहीं अब डीसी की ओर से निजी अस्पतालों की ओर से लेट रिपोर्ट बताकर मौत के आंकड़े जारी करने का मामला भी रूक गया है।

अब लेट रिपोर्ट के मामला भी गुरुवार को कोई नहीं आया है। इस प्रकार कोरोना से मौत के मामलों में बड़ी राहत मिली है। पिछले एक सप्ताह में प्राइवेट अस्पतालों ने 23 ऐसे लोगों की मौत जोड़ी जिनके इलाज और मौत की सूचना विभाग के पास पहले नहीं थी । उनमें ज्यादातर का अंतिम संस्कार भी कोविड प्रोटोकॉल के तहत नहीं हो पाया था।

जिससे गांवों में कोरोना संक्रमण का फैलाव अधिक होना सामने आया। यह मामला डीसी अनीश यादव के संज्ञान में लाया गया था । जिनके निर्देशानुसार कार्यकारी सिविल सर्जन डॉ. रोहताश कुमार की ओर से दो उप सिविल सर्जन पर आधारित जांच कमेटी का गठन किया गया । जिसके बाद अब कोरोना से मौत का आंकड़ा बुलेटिन में शून्य हो गया है । लेकिन विभाग कोरोना काल में ऐसी लापरवाही बरतने वाले अस्पतालों की कारगुजारियों से पर्दा उठाएगा । जांच रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद संबंधितों पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी ।

अब मात्र 177 एक्टिव केस, 107 होम आइसोलेट

जिले में 20 नए कोरोना संक्रमित आए, जबकि 32 को ठीक होने पर डिस्चार्ज किया गया । रिकवरी रेट 97.70 प्रतिशत तक पहुंचा है। हालांकि 1805 आशंकितों की सैंपलिंग की गई और अबतक तीन लाख 89 हजार 913 व्यक्तियों के सैंपल लिए जा चुके हैं। अब एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 177 रह गई है । होम आइसोलेट मरीजों की संख्या घटकर 107 हो गई है।

जांच बिठाई तो बुलेटिन में शून्य हुई मौत

पिछले साल (पहली लहर) में 7933 लोग संक्रमित हुए थे और 113 लोगों की जान गई थी, जबकि दूसरी में एक से तीन लोग प्रभावित हुए । जिले में 21 हजार से ज्यादा इसकी चपेट में आए हैं। लेट रिपोर्ट दिखाकर मौत के आंकड़े जोड़ने पर विराम लग गया है । इसलिए बुलेटिन में कोरोना मौत शून्य दिखाई गई । फिलहाल कोरोना से राहत मिली है और मौत का सिलसिला थम गया है ।

खबरें और भी हैं...