सिरसा में प्रेम-प्रसंग के शक में हुई थी हत्या:पत्नी के प्रेमी को गोली मार हत्या करने वाले पुलिसकर्मी, 2 साथियों को उम्रकैद

सिरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काठमंडी में दिनदहाड़े हुए कोचिंग सेंटर संचालक संदीप जाखड़ हत्याकांड मामले में जिला एवं सत्र न्यायालय हत्यारोपी पुलिस कर्मी सुभाष व उसके साथी राजपाल व संजय को सोमवार को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। सोमवार को तीनों हत्यारोपी न्यायालय में पेश हुए थे। इनको पिछले सप्ताह कोर्ट ने दोषी करार दिया था। इस मामले में शहर थाना पुलिस ने अगस्त 2017 को केस दर्ज किया था। पुलिस कर्मी सुभाष को शक था कि उसकी पत्नी के संदीप के साथ अवैध सबंध हैं। इस कारण आरोपियों ने हत्याकांड को अंजाम दिया। मामले के अनुसार गांव बकरियांवाली निवासी संदीप जाखड़ काठ मंडी में एजुकेशन सेंटर चलाता था। वह लोगों को अलग-अलग कोर्स व डिग्री करवाता था। वह 7 अगस्त 2017 दोपहर को अपने सेंटर में बैठा था। इसी दौरान पोलो कार में सवार होकर तीन युवक आए, जिनमें से दो पहले उसके दौड़ते हुए प्रथम तल स्थित ऑफिस में चले गए, जबकि एक बाद में आराम से ऊपर गया। यहां तीनों ने उसके साथ पहले बहसबाजी की और उसके बाद माथे व छाती में दो गोलियां दाग दीं, जिससे वह फर्श पर गिर गया। गोली मारकर तीनों मौके से फरार हो गए। सेंटर संचालक को पड़ोसी दुकानदार सामान्य अस्पताल लेकर आए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। हत्या का आरोप पुलिसकर्मी सुभाष, उसके साथी राजपाल व संजय कुमार पर लगा था।

खबरें और भी हैं...