राहत / नौतपा के चौथे दिन प्रचंड गर्मी से मिली थोड़ी राहत

Some relief from the intense heat on the fourth day of Nautpa
X
Some relief from the intense heat on the fourth day of Nautpa

  • पिछले चार दिन से पड़ रही भीषण गर्मी ने बाजारों में करवा दी सोशल डिस्टेंिंसंग, तापमान रहा 43.3 डिग्री

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 05:00 AM IST

सिरसा. भारतीय ज्योतिष में प्रचंड गर्मी का सूचक माने जाने वाले नौतपा का असर चौथे दिन भी जारी रहा। मानो कोरोना के बाद गर्मी का रेड जोन अब शुरू हो गया है। हालांकि पिछले तीन दिन के मुकाबले गुरुवार को दो डिग्री तापमान जरूर कम रिकार्ड किया गया। मगर उमस और गर्मी ने पसीना निकाले रखा। सुबह से असमान में हलके बादल भी दिखाई दिए। देर शाम को अचानक  मौसम बदला और तेज आंधी आ गई। उसके बाद हलकी बरसात भी हुई।

अंधड़ में कई पेड़ और खंभे टूट कर सड़कों पर गिर गए जिससे यातायात बाधित रहा। इससे पहले बुधवार रात को भी हल्की बूंदाबादी रही थी। मगर  गुरुवार को गर्मी का प्रकोप जारी था। पिछले तीन दिन से जहां भीड़ दिखी। वहीं अब बुधवार और गुरुवार की दोपहर को बाजार में 5 गुणा लोग कम दिखाई दे रहे हैं। न्यूनतम तापमान भी 30.1 डिग्री हो गया। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि अगले दो दिन में गर्मी से राहत मिलने की संभावना है।

जहां रहती थी भीड़ वहां नहीं दिखे लोग

शहर के सबसे भीड़भाड़ वाले और प्रमुख रोड़ी बाजार में भी 12 बजे के बाद भीषण गर्मी का असर देखने को मिला। जिस बाजार में दो गज तो दूर की बात है दो इंच की भी सोशल डिस्टेंसिंग सोमवार के बाद देखने को नहीं मिल रही थी। उसी बाजार में भीषण गर्मी के कारण दोपहर को 10-10 फुट की सोशल डिस्टेंसिंग दिखी। इसका एकमात्र कारण था कि दोपहर की भीषण गर्मी।

डी-हाइड्रेशन से बचने के लिए पेय पदार्थों की सलाह 
शहर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. आरके मेहता ने आमजन से गुजारिश की है कि इस तपती गर्मी से बचकर रहना ही बीमारियों से बचाव का एकमात्र उपाय है। उन्होंने कहा कि घर से निकलते समय पानी, दही, लस्सी जैसे पेय पदार्थ खा पीकर निकलें और वापस आने पर फिर ज्यादा से ज्यादा पेय पदार्थ लें। खाली पेट रहना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। चाइल्ड स्पेशलिस्ट डाॅ. आशीष खुराना ने बताया कि बच्चों को इस गर्मी से बचाकर रखने की सबसे ज्यादा इस समय जरूरत है। बच्चों को जितना हो सके घरों में ही रखें और धूप में न निकलने दें। उन्होंने कहा कि पानी की कमी शरीर में नहीं होनी चाहिए अन्यथा डी हाइड्रेशन का खतरा रहता है। उल्टी दस्त लगने पर ग्लुकोज, नीबू चीनी का घोल या ओआरएस का घोल लेना चाहिए।

62 लाख यूनिट पहुंची बिजली की खपत : जिस प्रकार से गर्मी बढ़ी है। उसी प्रकार से जिला में बिजली की खपत भी रोजाना बढ़ती जा रही है। जब तापमान 40 डिग्री के आसपास था। तब जिला में रोजाना 50 लाख यूनिट प्रतिदिन की बिजली की खपत होती थी। अब तापमान 46 डिग्री तक चल रहा है। इसलिए खपत भी 12 लाख यूनिट और बढ़ गई है। अब 62 से 65 लाख यूनिट तक बिजली खपत हो रही है।

आंधी से गिरे कई  खंभेे, बिजली आपूर्ति बाधित
शाम को आई तेज आंधी के कारण शहर में होर्डिंग, बैनर के साथ-साथ दर्जनों पेड़ भी उखड़ गए। जिससे कई रास्तों पर लोगों का आवागमन प्रभावित हो गया।बाद में हलकी बरसात हुई। वहीं आंधी से शहर के कई इलाकों में बिजली भी बाधित रही। तेज आंधी से ढाणी तेजा सिंह में सन्तोष भवन वाली गली में पेड़ गिर गए और बिजली का एक खम्भा भी टूट गया। पूरे क्षेत्र की बिजली गुल हो गई। ग्रामीण इलाकों में बिजली के खम्भे टूटने से बिजली आपूर्ति पूरी तरह से बाधित हो गई। इसके कई जगह पेड़ गिरने के कारण सड़कें ब्लॉक हो गई।

नौतपा के चार दिनों में यह रहा जिले का तापमान 
तारीख    अधिकतम    न्यूनतम
25 मई    44.2    29.3
26 मई    45.2    29.3
27 मई    46.0    31.1
28 मई    43.3    30.1

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना