सिरसा पुलिस हिरासत से हॉकी खिलाड़ी फरार:सीआईए ने कर्ण और साथी हरदीप को स्नेचिंग के मामले में पकड़ा था, मेडिकल के दौरान अस्पताल से भागा

सिरसा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस द्वारा गिरफ्तार खिलाड़ी कर्ण (हरी पगड़ी) और साथी हरदीप। - Dainik Bhaskar
पुलिस द्वारा गिरफ्तार खिलाड़ी कर्ण (हरी पगड़ी) और साथी हरदीप।

हरियाणा के सिरसा में स्नेचिंग के एक 6 महीने पुराने मामले में गिरफ्तार स्टेट हॉकी खिलाड़ी कर्ण पकड़े जाने के चंद घंटे बाद ही पुलिस की हिरासत से फरार हो गया। बताया गया है कि पुलिस उसे मेडिकल के लिए अस्पताल लेकर गई तो कर्ण वहां पुलिस कर्मचारी का हाथ झटक कर दीवार फांद कर भाग गया। पुलिस पूरे मामले को दिनभर मीडिया से छिपाने में लगी रही। एसपी डा. अर्पित जैन भी मामले में केवल इतना कह रहे हैं कि जल्द ही पकड़ कर पूरी जानकारी देंगे।

मल्लेकां गांव का कर्ण

बताया गया है कि सिरसा सीआईए ने गुरुवार को स्टेट हॉकी खिलाड़ी सिरसा के गांव मल्लेकां निवासी कर्ण और उसके साथी और​​​​​​​ सिरसा के संतनगर निवासी हरदीप को स्नेचिंग के एक 6 महीने पुराने मामले में पंजाब के अबोहर से गिरफ्तार किया था। रात को पुलिस इनको लेकर सिरसा पहुंची। दोनों को सिरसा के नागरिक अस्पताल में मेडिकल के लिए ले जाया गया। बताते हैं कि इस दौरान कर्ण ने पुलिस कर्मी का हाथ झटका और छलांग लगा कर भाग गया।

सिरसा पुलिस की गिरफ्त में कर्ण और हरदीप।
सिरसा पुलिस की गिरफ्त में कर्ण और हरदीप।

खिलाड़ी जैसी तेजी नहीं दिखा पाई पुलिस

पुलिस कर्मियों ने पीछा किया, लेकिन उसका पता नहीं चला। असल में पुलिस कर्मचारी कर्ण की तेजी के साथ दौड़ ही नहीं पाए। कुछ देर बाद पूरे सिरसा की पुलिस अलर्ट हो गई। जगह जगह तलाशी ली गई। कर्ण के गांव में उसके घर और उसके अन्य रिश्तेदारों के यहां भी पुलिस उसको तलाशती हुई पहुंची, लेकिन सुराग नहीं लगा।

हुडा चौकी पुलिस ले गई थी अस्पताल

जानकारी मिली है कि सीआईए ने गिरफ्तारी के बाद दोनों आरोपियों को सिविल लाइन थाना की हुडा चौकी पुलिस को सौंप दिया था। यहीं से दोनों को मेडिकल के लिए सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया। पुलिस ने एक दिन पहले उसकी गिरफ्तारी को बड़ी सफलता बताते हुए पुलिस टीम के साथ एक फोटो भी मीडिया को शेयर किया। कुछ घंटे बाद वह फरार हुआ तो पुलिस हर प्रकार की जानकारी देने से बचने लगी।