• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • The Farmers Who Came To Oppose The BJP Candidate Also Surrounded The Vehicle Of Vikal Pachar, Also Tore The Posters And Banners Kept In The Vehicle.

कांडा ने थ्री टीयर सुरक्षा में भरा नामांकन:भाजपा प्रत्याशी का विरोध करने आए किसानों ने विकल पचार की गाड़ी को भी घेरा, गाड़ी में रखे पोस्टर और बैनर भी फाड़ दिए

सिरसा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिरसा। ऐलनाबाद में भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाते किसान। - Dainik Bhaskar
सिरसा। ऐलनाबाद में भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाते किसान।
  • किसानों ने गांव-गांव जा भाजपा के विरोध का ऐलान किया
  • ऐलनाबाद में अभय चौटाला, पवन बैनीवाल व गोबिंद कांडा के चुनावी मैदान में उतरने से उपचुनाव में कांटे की टक्कर, कांग्रेस में एकजुटता जरूरी

अब तक ठंडे पड़े ऐलनाबाद हलके के उपचुनाव में गुरुवार को अचानक उबाल आया। इधर जैसे ही भाजपा ने गोबिंद कांडा को प्रत्याशी बनाकर मैदान में उतारने की घोषणा करते हुए नामांकन भरने का ऐलान किया। उसी समय किसानों ने भी ऐलनाबाद हलके में एकजुट होकर भाजपा और गोबिंद कांडा के खिलाफ विरोध करने का बिगुल बजा दिया।

किसानों के भारी विरोध को देखते जिला प्रशासन को सुरक्षा के कड़े प्रबंध करने पड़े। चुनाव के लिए आई पैरामीलिट्री फोर्स को जगह जगह तैनात करना पड़ा। ऐलनाबाद के एसडीएम कार्यालय के पास बनाए चुनाव नामांकन दाखिल करने वाले कक्ष के पास प्रशासन ने पैरामीलिट्री फोर्स लगाकर थ्री टायर सुरक्षा के साथ बैरिकेडिंग कर दी।

दो लेयर पैरामीलिट्री फोर्स के जवानों और एक सिरसा पुलिस की लेयर तैनात की गई। थ्री टायर सुरक्षा में भाजपा-जजपा नेताओं के साथ गोबिंद कांडा ने आकर नामांकन दाखिल किया। इससे पहले गांव मंगाला से ही किसानों ने कांडा के काफिले को काले झंडे दिखाने शुरू कर दिए थे।

मल्लेकां में सैकड़ों किसान जुटे हुए थे। उसके बाद जिलाभर के किसान ऐलनाबाद कोर्ट परिसर के बाहर जमा हो गए थे। जजपा के प्रदेशाध्यक्ष की गाड़ी को भी किसानों ने रोका और काले झंडे दिखाए। कांडा का नामांकन भराने के लिए खेल मंत्री संदीप सिंह, बिजली मंत्री रणजीत सिंह, सांसद दुग्गल, ओपी धनखड़, जजपा प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह, चुनाव प्रभारी बराला और पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर ऐलनाबाद पहुंचे थे।

नारेबाजी की ऐलनाबाद में नामांकन दाखिल करवाने के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ और अन्य भाजपा नेताओं ने सिरसा के डबवाली रोड पर बने एक होटल में मीटिंग का आयोजन किया। इसकी सूचना किसानों को लग गई। किसानों ने यहां गेट के आगे नारेबाजी करनी शुरू कर दी।

अभय अपना कहा ही भूले : धनखड़

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धनखड़ ने कहा कि अभय ने एक ऐसे मुद्दे को लेकर विधायक पद से इस्तीफा दिया था। जो वास्तव में मुद्दा था ही नहीं। तीन कृषि कानून पर वैसे भी सुप्रीम कोर्ट कोर्ट का स्टे हैं। इसलिए वे लागू भी नहीं है । इसके अलावा ये कानून ऐचिछक है ।

फिर भी उन्होंने इस्तीफा देते हुए कहा था कि जब तक ये कानून वापस नहीं होते । मैं विधानसभा में नहीं आऊंगा । ऐसे में अब दोबारा से उनका चुनाव लड़ने का तो तर्क ही नहीं बनता । इधर कांग्रेस के पास ना कोई जिले में प्रधान है और ना ही कोई कार्यकारिणी है।

विकल पचार भी भाजपा प्रत्याशी कांडा का विरोध करने पहुंचे थे

इधर हरियाणा संयुक्त मोर्चा के नाम से संगठन बनाकर चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके किसान नेता विकल पचार भी भाजपा नेता और प्रत्याशी गोबिंद कांडा का विरोध करने पहुंचा था। उसे देखकर किसान भड़क गए। उसे नकली किसान नेता बताकर उसकी गाड़ी का घेराव किया और उसके पोस्टर और झंडे फाड़ दिए। किसानों ने विकल पचार को भी खूब खरी खोटी सुनाई। पुलिस ने उनको वहां से निकाला।

भाजपा की प्रचार सामग्री गाड़ी से निकालकर जलाई

ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा जजपा नेताओं का विरोध करने का ऐलान कर चुके किसान संगठनों नेे जहांं भाजपा प्रत्याशी के नामांकन का जमकर विरोध किया और काले झंडे दिखाए। वहीं किसानों ने भाजपा की प्रचार सामग्री वाली गाड़ी से पार्टी के झंडे और बैनर निकाल लिए और उनकी ढेरी करके किसानों ने सारे झंडों को आग लगा दी।

पवन व भरत बैनीवाल में एकजुटता रही तो हो जाएगी कांटे की टक्कर

कांग्रेस ने पवन बैनीवाल को अपना प्रत्याशी बनाया है। इनेलो से अभय सिंह चौटाला और कांग्रेस से पवन बैनीवाल शुक्रवार को नामांकन दाखिल करेंगे। भाजपा की तरफ से गोबिंद कांडा के मैदान में आने से मुकाबला त्रिकोणीय होने की संभावना भी बढ़ गई है। अगर कांग्रेस के कद्दावर नेता पूर्व विधायक भरत सिंह बैनीवाल अपने भतीजे पवन बैनीवाल का साथ पूरेे दिल से देते है तो दोनों की एकजुटता इनेलो और भाजपा के लिए कड़ी चुनौती बन जाएगी।

खबरें और भी हैं...