पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विवाद:महिला की मौत पर सिविल अस्पताल में परिजनों का हंगामा, पुलिस को बुलाने पर भड़क गए कॉलोनी के लोग

सिरसा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • परिजन बोले: बुजुर्ग तड़पती रही, डॉक्टर करता रहा फोन पर बात, संभाला होता तो बच जाती जान

सिविल अस्पताल में महिला की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया। गुस्साए परिजनों ने ड्यूटी डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही के गंभीर आरोप लगाए। महिला की मौत के बाद शव को लेकर जाने को लेकर विवाद हो गया। कॉलोनीवासियों की डॉक्टर और अस्पताल स्टॉफ के साथ तीखी बहस हुई। हंगामा बढ़ता देख डॉक्टर ने पुलिस बुला ली तो मामला भड़क गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति संभाली और महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया।

हुआ यूं कि दोपहर के समय सिविल अस्पताल के एमरजेंसी वार्ड में जेजे कॉलोनी के कुछ लोग एक बुजुर्ग महिला करतारी बाई को लेकर आए। परिजनों जंगी और मंगतराम ने बताया कि महिला का बीपी हाई है और तबीयत बिगड़ गई है। इस पर डॉक्टरों ने महिला को जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। लेकिन परिजनों चंदा और संजय आरोप लगाया कि डॉक्टर ने समय पर महिला का इलाज नहीं किया । उन्होंने आरोप लगाया कि डॉक्टर ने कहा कि पहले आधार कार्ड लाओ, फिर इलाज शुरू होगा। इस पर कॉलोनीवासियों ने हंगामा शुरू कर दिया।

डॉक्टर ने कहा- परिजनों के आरोप आधारहीन, महिला को जब अस्पताल लाया गया वो मृत थी

जहां एक ओर कॉलोनीवासी और बुजुर्ग महिला के परिजन डॉक्टरों पर इलाज में लापरवाही, इलाज से पहले फोन पर बातचीत के गंभीर आरोप लगा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर डॉक्टर ने पूरा मामला ही झूठा बता दिया है। डॉक्टर का कहना है कि महिला मृत अवस्था में ही अस्पताल में पहुंची है। ऐसे में शव का नियम अनुसार पोस्टमार्टम करवाना जरूरी था। जबकि कॉलोनीवासी पोस्टमार्टम नहीं करवाना चाहते और शव को अपने घर लेकर जाना चाह रहे थे। इसी बात को लेकर पहले बहस और फिर विवाद हुआ। इलाज करना या न करना ये कोई मुद्दा ही नहीं था।

हंगामे की सूचना पर पहुंची सिटी पुलिस, दोनों पक्षों की बात सुनी तो पोस्टमाटर्म करवाने को माने परिजन

सिविल अस्पताल के कैंपस में हंगामे की सूचना के बाद सिटी एसएचओ प्रदीप कुमार के नेतृत्व में पुलिस बल पहुंचा। सिटी एसएचओ ने हंगामा कर रहे कॉलोनीवासियों को शांत करवाया और उनकी बात सुनी। इस पर सिटी एसएचओ ने कहा कि कॉलोनीवासी लिखित में शिकायत दें। हम सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर मामले की जांच करेंगे और जो दोषी होगा। उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। इस पर कॉलोनीवासी शांत हुए और मृतक महिला के शव को पोस्टमार्टम रूम में रखवाने को सहमत हुए। घटना के बाद अब पुलिस ने बयान दर्ज करके कार्रवाई करके जांच शुरू कर दी है।

कॉलोनीवासियों ने किया अभद्र व्यवहार: डॉ. विकास

कॉलोनी के कुछ लोग महिला को लेकर एमरजेंसी वार्ड में आए थे। मैने तुरंत देखा तो पता चला कि महिला की मौत अस्पताल पहुंचने से पहले ही हो चुकी थी। यहां मृत अवस्था में महिला को लेकर आएं हैं। कॉलोनीवासियों की ओर से मुझ पर लगाए गए इलाज में लापरवाही के आरोप बेबुनियाद हैं, बल्कि हंगामा तो इस बात पर हुआ था कि जब मैंने शव का पोस्टमार्टम करवाने के लिए प्रक्रिया शुरू की और आधार कार्ड मांगा। परिजनों ने शव को घर ले जाने की जिद्द की। जबकि नियम यह है कि यदि कोई शव बाहर से आता है तो पोस्टमार्टम करवाना जरूरी है। इस घटना के दौरान कॉलोनीवासियों ने मेरे और स्टॉफ के साथ अभद्र व्यवहार किया। जिससे बचने के लिए मैने पुलिस को सूचना देकर बुलाया।'' -डॉ. विकास शर्मा, ड्यूटी डॉक्टर एमरजेंसी विभाग, सिविल अस्पताल सिरसा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser