पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Uproar Over The Opposition Of The BJP Leaders Who Came To Blow Up The Effigy At Huda Chowk, Farmers Sitting Outside The MLA's Office For A Two hour Sit in

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों के दो गुटों का प्रदर्शन:हुडा चौक पर पुतला फूंकने आए भाजपाइयों के विरोध पर हंगामा तो विधायक के कार्यालय के बाहर दो घंटे धरने पर बैठे किसान

सिरसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब के मुख्यमंत्री का पुतला फूंकने वाले भाजपा नेताओं के विरोध में उतरे किसानों को रोकती पुलिस। - Dainik Bhaskar
पंजाब के मुख्यमंत्री का पुतला फूंकने वाले भाजपा नेताओं के विरोध में उतरे किसानों को रोकती पुलिस।
  • मलोट के विधायक से मारपीट के विरोध में पंजाब के मुख्यमंत्री का पुतला फूंकने पर रोष

मलोट (पंजाब) में भाजपा विधायक से मारपीट के विरोध में मंगलवार सुबह जिला के भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस सुरक्षा में पंजाब के मुख्यमंत्री का पुतला फूंका। इस दौरान कृषि कानूनों के विरोध में संघर्षरत किसान हाथों में काले झंडे लेकर भाजपाइयों के विरोध में उतर आए। दोनों पक्षों में टकराव होता, उससे पहले पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया।

पुतला फूंकने आए भाजपा नेताओं के विरोध में भड़के किसानों ने जमकर नारेबाजी की। मगर पुलिस फोर्स ने किसानों को आगे नहीं जाने दिया, जिससे आपसी टकराव टल गया। हालांकि किसानों की संख्या कम और भाजपा कार्यकर्ता ज्यादा थे, लेकिन इसके बावजूद किसान भाजपाइयों को ललकारते रहे।

पंजाब के मलोट में भाजपा के एक विधायक से कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत किसानों ने मारपीट की थी। उसके कपड़े तक फाड़ दिए थे, जिसके विरोध में महिला थाने के सामने भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का पुतला फूंकने और पंजाब सरकार को बर्खास्त करने की मांग को लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपना था।

जिसकी भनक शहीद भगतसिंह स्टेडियम में आंदोलनरत किसानों को लग गई, एकत्रित किसान हाथों में काले झंडे लेकर सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए महिला थाने की ओर निकल पड़े। साढ़े 11 बजे हुडा चौक के पास पहुंचे। जहां पहले से तैनात पुलिस फोर्स ने किसानों को आगे जाने से रोक लिया।

करीब 150 मीटर पहले रोके जाने पर पुलिस और किसानों के बीच आपसी खींचतान हुई। जबकि दूसरी तरफ भाजपा के जिला अध्यक्ष आदित्य चौटाला के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ता पुलिस सुरक्षा के बीच हुड्डा चौक पर पहुंचे और पंजाब सरकार के खिलाफ रोष प्रकट करते हुए पुतला फूंका।

इस दौरान राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा गया। जिसके तहत भाजपा कार्यकर्ताओं व किसानों के बीच टकराव की स्थिति बन गई थी। लेकिन पुलिस फोर्स ने बीच- बचाव करते हुए किसानों को वहीं रोके रखा।

चौक में तैनात पुलिस के एक तरफ भाजपा कार्यकर्ताओं ने पंजाब के मुख्यमंत्री का पुतला फूंका, वहीं दूसरी और किसानों ने भाजपा कार्यकर्ताओं के विरोध में नारेबाजी की। किसान उन्हें ललकारते नजर आए। मगर भाजपा कार्यकर्ता पुतला फूंककर वहां से चलते बने।

इतना ही नहीं भड़के किसानों ने दोपहर बाद भाजपा नेता जगदीश चोपड़ा का पुतला भी फूंका। चौपड़ा निवास के सामने किसानों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों ने कहा कि किसान आंदोलन अब जन आंदोलन बन चुका है। गांव- गांव व शहरों में भाजपा की नीतियों से लोग तंग आ चुके हैं।

किसानों ने शाम को फूंका भाजपा नेताओं का पुतला

मुख्यमंत्री खट्टर के पूर्व राजनीतिक सलाहकार जगदीश चैपड़ा व भाजपा जिलाध्यक्ष आदित्य के नेतृत्व में मंगलवार की सुबह पंजाब के मुख्यमंत्री अमरेन्द्र सिंह पुतला फूंका गया था। इसी के विरोध में शाम को किसानों ने पुरानी हाउसिंग बोर्ड कालोनी स्थित जगदीश चोपड़ा के आवास के बाहर प्रदर्शन किया। किसानों ने भाजपा जिलाध्यक्ष आदित्य व जगदीश चैपड़ा के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनके पुतले का दहन किया गया। प्रदर्शनकारियों ने पुतलों पर गुस्सा निकालते हुए जुत्म पैजार की गई।

विस में किसानों को ब्लैक शिप कहे जाने पर भड़के

कृषि कानूनों के विरोध में संघर्षरत किसानों के एक गुट ने विधानसभा में किसानों को ब्लैक शिप कहे जाने को लेकर मंगलवार सुबह सिरसा के विधायक गोपाल कांडा के कार्यालय का घेराव किया। जहां दो घंटे कार्यालय के समक्ष धरना लगाकर नारेबाजी की।

उसके बाद विधायक गोपाल कांडा का पुतला फूंका। इतना ही नहीं किसानों ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि जब तक विधायक गोपाल कांडा किसानों को कहे गए अपशब्द वापस नहीं लेते, उनकी ओर से विरोध जारी रहेगा। गांव- गांव में विरोध किया जाएगा।

फाग वाले दिन डिप्टी सीएम की कोठी आगे हंगामा

डिप्टी सीएम दुष्यन्त का फाग वाले दिन भी किसानों ने जमकर विरोध किया था। किसान कोठी आगे पहुँच गए थे। वहां धरना लगा दिया था। डिप्टी सीएम की कोठी के आगे लगाया गया टेंट भी कार्यकर्ताओं को हटाना पड़ा। मंगलवार की दोपहर को जब डिप्टी सीएम का काफिला हेलीकॉप्टर तक जा रहा था। तब किसानों ने रास्ते मे काले झंडे दिखाकर विरोध किया। इस दौरान भारी पुलिसबल तैनात रहा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें