• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Sirsa
  • Villagers Objected To The Protest Of The Agitating Farmers, There Were Also Face to face In Many Places, Did Not Allow Demonstration

प्रशासन की चुनौती बढ़ी:आंदोलनकारी किसानों के विरोध पर ग्रामीणों काे ऐतराज कई जगह आमने-सामने भी हुए, नहीं करने दिया प्रदर्शन

सिरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चौपटा। गांव जमाल में किसान व बेनीवाल बहस करते हुए। - Dainik Bhaskar
चौपटा। गांव जमाल में किसान व बेनीवाल बहस करते हुए।
  • ऐलनाबाद उपचुनाव में प्रचार की तेजी के साथ आंदोलकारी किसानों का विरोध भी बढ़ता जा रहा है, ऐसे में व्यवस्था बनाए रखना हो रहा मुश्किल

ऐलनाबाद उपचुनाव में जैसे जैसे चुनाव प्रचार तेजी पकड़ रहा है। वैसे ही अब गांव में किसान आंदोलन से जुड़े लोगों की ओर से विरोध प्रदर्शन को भी गति मिल रही है। इससे प्रशासन की चुनौती बढ़ती जा रही है। अब कई गांव में बाहर से आकर विरोध करने वाले आंदोलनकारियों पर ग्रामीण ऐतराज करने लगे हैं। इसलिए आंदोलनकारी और ग्रामीण कई जगह आमने सामने भी हो रहे हैं। बुधवार को जहां गांव रंधावा और रूपणा खुर्द में ग्रामीणों ने विरोध करने पहुंचे किसानों को प्रदर्शन नहीं करने दिया।

वहीं गुरुवार को एक बार फिर गांव जमाल में भी गांव के निवर्तमान सरपंच और ग्रामीणों के साथ विरोध को लेकर किसान आंदोलन से जुड़े लोगों की बहसबाजी हुई। किसान संगठन के लोगों ने भाजपा पार्टी का विरोध करने की बात कही। वहीं सरपंच नंदलाल बैनीवाल ने भी साफ कहा की यहां विरोध नहीं करने दिया जाएगा।

विरोध होगा तो सभी दल के नेताओं का होगा। इस बात को लेकर दोनों पक्षों में काफी देर तक हंगामा होता रहा। प्रत्याशी के भाई गोपाल कांडा करते रहे जनसभा इधर भाजपा प्रत्याशी के भाई सिरसा विधायक गोपाल कांडा अपनी जनसभा करते रहे।

इससे पहले गोपाल कांडा का गांव बरासरी, रायपुरिया और ढूकड़ा में भी किसानों ने काले झंडे दिखाकर विरोध किया। ढूकड़ा में कुछ दिन पहले ग्रामीणों ने पंचायत करके भाजपा का विरोध करने का फैसला लिया था, मगर उसका असर नहीं दिखा। कांडा ने वहां पर जनसभा भी की। उमेदपुरा में भी किसानों का ग्रामीणों ने विरोध किया। इस दौरान गोपाल कांडा के साथ भारी सुरक्षा बल लगा रखा था।

इधर... ऐलनाबाद शहर की साइड चुनाव प्रचार कर रहे भाजपा प्रत्याशी गोबिंद कांडा का भी गुरुवार को तीन गांव में विरोध हुआ। गांव ममेरांकला में किसानों ने कांडा के आने से पहले ही रास्ता रोक लिया। जब गोबिंद कांडा का काफिला गांव में पहुंचा तो किसान काले झंडे लेकर आगे खड़े हो गए।

15 मिनट तक धक्काशाही चलती रही। उसके बाद पुलिस बल ने प्रदर्शनकारियों को हटाया और काफिले को सभा स्थल तक लेकर गए। इसी प्रकार गांव कुम्भथला में काले झंडे दिखाए गए। वहीं मेहनाखेड़ा में भी कुछ किसानों ने कांडा के खिलाफ नारेबाजी की।

आईजी ने जिला पुलिस के अधिकारियों की बैठक लेकर सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा की

ऐलनाबाद हलके के उपचुनाव में बढते विरोध और कानून व्यवस्था ना बिगड़ इसके लिए हिसार रेंज के आईजी खुद सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अलर्ट नजर आ रहे हैं। वे खुद सुरक्षा प्रबंधों की समीक्षा कर रहे हैं। गुरुवार को एक बार फिर आईजी ऐलनाबाद पहुंचे।

आईजी राकेश कुमार आर्य ने पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन व जिला के अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ ऐलनाबाद स्थित बीडीपीओ कार्यालय में बैठक लेकर चुनाव को लेकर किए जाने वाले सुरक्षा प्रबंधों के बारे में जानकारी लेकर समीक्षा उपरांत आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन ने पुलिस महानिरीक्षक हिसार रेंज राकेश कुमार आर्य को ऐलनाबाद उपचुनाव के दौरान जिला पुलिस द्वारा किए जाने वाले सुरक्षा प्रबंधों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि आगामी 30 अक्टूबर को ऐलनाबाद उपचुनाव को लेकर सभी पुलिस अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में कानून व्यवस्था को पूरी तरह दुरूस्त रखें।

उन्होंने कहा कि निष्पक्ष व स्वतंत्र चुनाव करवाना पुलिस की सर्वोच्च प्राथमिकता है इसलिए सभी पुलिस अधिकारी,थाना प्रभारी व अन्य पुलिस कर्मचारी पूरी सतर्कता व चौकसी बरतें व संदिग्ध किस्म के लोगों पर कड़ी निगाह रखें।

सीधी बात- गुरी, किसान नेता

हम तो कृषि बिल को लेकर शांतिपूर्वक विरोध कर रहे है। हमारा कोई मकसद नहीं की गांव का भाईचारा खराब हो। कुछ जगह जो हमें रोकने की कोशिश की है, वे गांव के कुछ ही लोग होते है, बाकी सभी किसानों के साथ है।

सीधी बात- नंदलाल, निवर्तमान सरपंच

गांव जमाल के निवर्तमान सरपंच नंदलाल बैनीवाल ने साफ शब्दों में कहा की गांव में विरोध नहीं करने दिया जाएगा। विरोध होगा तो सभी दल के नेताओं का होगा। इस बात को लेकर दोनोंे पक्षों में काफी देर तक हंगामा होता रहा। इधर भाजपा प्रत्याशी के भाई सिरसा विधायक गोपाल कांडा अपनी जनसभा करते रहे।

खबरें और भी हैं...