पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिवानी मंडी:युवाओं ने 40 फुट गहरे कुएं से बछड़े को सुरक्षित निकाला

सिवानी मंडी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गांव धूलकोट में मां मनसा देवी जागृति क्लब के सदस्यों ने द्वारा सोमवार को देर रात 40 फीट गहरे कुंए में गिरे बछड़े की जान बचाई। क्लब के सदस्य विनोद फौजी ने बताया कि क्लब के सदस्यों को सूचना मिली थी कि गांव के कुएं में एक बछड़ा गिर गया है। क्लब के सदस्यों ने मौके पर पहुंचकर अंधरे में कुंए से बछड़ा बाहर निकाला।

जानकारी के अनुसार मां मनसा देवी क्लब के सदस्यों को सूचना मिली थी कि गांव के 40 फीट गहरे कुंए में अचानक बछड़ा गिर गया। बछड़ा बचाने के लिए युवा आगे आएं। युवाओं ने कुएं में उतरकर बछड़े को सुरक्षित बाहर निकाला। जिसके बाद बछड़े का इलाज करवाया गया। विनोद फौजी ने बताया कि जीव की जान बचाकर युवाओं ने मिसाल पेश की है। इस मूक जीव को बचाने मे सतीश कुमार, राधेश्याम, शुभकरण, श्रवण, सचिन, बिल्लू संजय, सुभाष, जसवंत, पवन कुमार कंवरभान, राजपाल राहुल ने अपना सहयोग देकर मानवता का परिचय दिया।

टीबी मुक्त होने पर स्वास्थ्य कर्मियों का विशेष योगदान: डाॅ. सुमन

नागरिक अस्पताल सिवानी में टीबी राेग से मुक्त होने के लिए एक जागरूकता अभियान चलाया गया। जिसमें खंड के सभी पंचायत के सदस्यों ने भाग लिया। इस अवसर पर के लिए उप सिविल सर्जन (क्षय रोग) डॉ. सुमन विश्वकर्मा द्वारा टी.बी. की बीमारी के लक्षण व निदान के बारे में जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि टी.बी.रोगी को घर पर मुफ्त में दवाई व हरियाणा सरकार पांच सौ रुपये की राशि भी दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि सभी पंच, सरपंच, ब्लॉक समिति, जिला पार्षद सदस्यों व अन्य सभी सामाजिक संस्थाओं का दायित्व बनता है कि वे इस महामारी से बचाव के लिए सरकार की सहायता करें व मरीज की पूरा सहयोग करें। इस अवसर पर डाॅ. सुमन विश्वकर्मा ने ब्लॉक सिवानी को टी.बी. मुक्त ब्लॉक करने के लिए कर्मचारियों को प्रोत्साहित किया गया।

खबरें और भी हैं...