प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा:राष्ट्रीय मजदूर किसान मंच ने महंगाई काे लेकर नारेबाजी कर जताया राेष

टोहाना22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रधानमंत्री को भेजने के लिए तहसीलदार को अस्थि पिंजर देने पहुंचे राष्ट्रीय मजदूर एकता मंच के प्रतिनिधि। - Dainik Bhaskar
प्रधानमंत्री को भेजने के लिए तहसीलदार को अस्थि पिंजर देने पहुंचे राष्ट्रीय मजदूर एकता मंच के प्रतिनिधि।
  • मंच के प्रतिनिधि मंडल ने तहसीलदार को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा

राष्ट्रीय मजदूर किसान मंच ने प्रधानमंत्री को मानव अस्थि पिंजर, टूटा दीया, खाली गुल्लक व फटी जेब वाला कुर्ता भेजा है। साथ ही कहा कि भारत सरकार ने बेतहाशा महंगाई कर सभी वर्गों का खून चूस लिया है जिससे अब केवल अस्थि पिंजर ही बचा है।

इस संबंध में राष्ट्रीय मजदूर किसान मंच के प्रतिनिधि मंडल ने तहसीलदार को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा। ज्ञापन के साथ किसान, मजदूर, व्यापारी की ओर से मानव अस्थि पिंजर, टूटा हुआ दीया, खाली गुल्लक, फटी जेब वाला कुर्ता भी प्रधानमंत्री के पास भेजने के लिए दिया।

मंच के जिला सचिव रामकुमार सैनी ने कहा कि भारत सरकार ने महंगाई करके गरीब आदमी, मजदूर, किसान, व्यापारी सभी वर्गों का खून चूस लिया है। जिस कारण अब केवल अस्थि पिंजर ही इंसान के रूप में बचा है। सरकार इसे भी खत्म करने का काम कर रही है। आज दीपावली के त्यौहार पर बाजारों में रौनक नहीं, खाली पड़े हैं। मजदूर किसान की जेब में इतने पैसे नहीं कि वे अपने परिवार और बच्चों के लिए खिलौने मिठाइयां तक खरीद सकें।

उन्होंने मांग की कि सरकार तुरंत प्रभाव से तीनों कृषि कानूनों को रद्द करें और फसल के एमएसपी पर खरीद की गारंटी का कानून जल्दी लागू करे, डीएपी खाद की कमी की वजह से किसान समय पर फसल नहीं बीज पा रहे हैं। धीरज गाबा व प्रदेश महासचिव सज्जन सिंह ने कहा सरकार ने इस काबिल भी नहीं छोड़ा के दीये भी जला सकें। हमारी जेब इस महंगाई ने फाड़ दी है। इस अवसर पर वीरेंद्र कुंडू, हरपाल सिंह प्रधान , बलकार सैनी युवा प्रधान, सुखविंद्र सैनी, सूरजभान उपप्रधान, सुनील मैडल जिला महासचिव,चंद्रभान, दौलत राम आदि साथ थे।

खबरें और भी हैं...