पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रोष:चेयरमैन बने बराला के स्वागत में रोड शो का कार्यक्रम रद्द, किसानों ने भाजपा के झंडे और कटआउट जलाए

टोहाना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला को हरियाणा सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो का चेयरमैन बनाए जाने पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा रोड शो निकालने की पूरी तैयारी कर ली गई थी। बराला को सुबह करीब 11 बजे आना था, लेकिन करीब 12 बजे एकाएक बराला के रोड शो के कार्यक्रम को रद्द कर उन्हें रूट बदल कर उनके गांव बढईखेड़ा स्थित फॉर्म हाउस पर ले जाया गया।

इस बारे में सुभाष बराला का कहना था कि जाखल के नपा प्रधान के ससुर नोहर चंद के सुसाइड से कार्यक्रम स्थगित किया गया वहीं कृषि कानूनों को वापस न लेने के विरोध में बराला को काले झंडे दिखाने को एकत्रित किसान संघर्ष समन्वय समिति ने कहा कि बराला को किसानों द्वारा काले झंडे दिखाकर विरोध करने की सूचना मिल गई थी। इसलिए उन्होंने कार्यक्रम रद्द कर रूट ही बदल लिया। इससे पहले शुक्रवार को फतेहाबाद में सांसद सुनीता दुग्गल को भी किसानों के विरोध के चलते ट्रैक्टर यात्रा का रूट छोटा कर दूसरे रास्ते से जाना पड़ा था।

किसानों को रोकने को मंगवाए थे वज्र वाहन

बराला के रोड शो में किसान खलल न डालें, उन्हें रोकने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा करीब दो सौ पुलिसकर्मियों को तैनात किया हुआ थ। हिसार से भी अतिरिक्त पुलिस फोर्स बुला रखी थी। किसानों को रोकने के लिए पानी की बौछार करने वाली दो गाडिय़ां (वज्र वाहन) भी मंगवा रखी थी।

करीब 5 किलोमीटर एरिया में लगाए थे झंडे

सुभाष बराला को हरियाणा सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो का चेयरमैन बनाए जाने पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा रोड शो के करीब 5 किलोमीटर लंबे रास्ते पर पार्टी के झंडे लगाए गए थे। पंजाब सीमा के पास चंडीगढ़ रोड पर सभी को बांटने के लिए लड्डू व पटाखे भी लाए गए थे। करीब 12 बजे जैसे ही कार्यक्रम रद्द करने की सूचना मिली वर्करों के चेहरों पर एक बारगी मायूसी छा गई बाद में बराला के फॉर्म हाउस पहुंचने पर वर्करों ने वहां जाकर उन्हें बधाई दी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें