सागवान में विवाहिता की मौत:गला घोंटकर मारने का शक; पति समेत तीन के खिलाफ हत्या का केस

तोशामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गांव सागवान में कथित रूप से एक विवाहिता की पति, सासू व ननद ने गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस ने तीनाें के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतका के भाई गांव ढाकल जिला जींद निवासी नरेंद्र ने बताया कि उसकी बहन पिंकी की शादी 8 मई 2014 काे गांव सागवान निवासी संदीप के साथ हुई थी। दाेनाें से छह वर्षीय लड़का व चार वर्षीय लड़की है।

शादी के बाद से ही पति व ससुराल के सदस्य उसकी बहन पिंकी से गलत व्यवहार करने लगे थे। उसके साथ मारपीट भी करते थे। रात काे उसकी ननद कविता ने फाेन कर बताया कि घर में झगड़ा हुआ था और पिंकी कहीं चली गई है, वह उनके पास आई है या नहीं। इसपर उसने कहा कि वह नहीं आई। इसके बाद उसने पिंकी के मोबाइल पर चार-पांच बार काॅल किया और फिर काॅल उठाई लेकिन काेई नहीं बाेला लेकिन फाेन में महिला व व्यक्तियों की आवाज आ रही थी। इसके बाद पिंकी की पड़ाेस की एक महिला ने बात की और बताया कि पिंकी की माैत हाे गई।

उसने मामले की सूचना पुलिस काे 112 नंबर पर दी। पुलिस माैके पर पहुंची और कुछ समय बाद वह भी परिवार के सदस्यों के साथ माैके पर पहुंचा ताे पिंकी लाश बेड पर लिटा रखी थी। उसने पिंकी के पति व सास से इस संबंध में पूछताछ की ताे उन्होंने बताया कि पिंकी ने गेट पर चुन्नी से फांसी का फंदा लगा लिया था। लेकिन उन्होंने गेट देखा ताे उन्हें शक हुआ कि काेई केवल छह फुट ऊंचे गेट पर कैसे फांसी लगा सकता है।

आरोप है कि पिंकी के पति संदीप, सास तथा ननद कविता ने गला घाेटकर पिंकी की हत्या की है। पुलिस ने तीनाें के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस शव काे पोस्टमार्टम के लिए भिवानी सिविल अस्पताल में लेकर आई। मंगलवार काे सिविल अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम किया गया, लेकिन मायका पक्ष के लाेगाें ने शाम पांच बजे तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया था।

मृतका के भाई नरेंद्र ने कहा कि आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। देर शाम मायका पक्ष के लाेग आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग काे लेकर तोशाम थाना पहुंचे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मृतका के भाई की शिकायत पर पति, सास व ननद के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है और जल्द ही आरोपियों काे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। -सुखबीर सिंह, थाना प्रभारी, ताेशाम।

खबरें और भी हैं...